Sports

मुंबई : दिल्ली कैपिटल्स की टीम में अनुभवी खिलाड़ियों की मौजूदगी ऋषभ पंत जैसे युवा कप्तान के लिये फायदे का सौदा है जो कि रविचंद्रन अश्विन और अजिंक्य रहाणे जैसे क्रिकेटरों से सलाह ले सकते हैं। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के युवा कप्तानों में से एक पंत ने चोटिल श्रेयस अय्यर की जगह टीम की कमान संभाली है। उनका मानना है कि उनके लिये कुछ भी नहीं बदला है क्योंकि विकेटकीपर होने के कारण वह कप्तान नहीं होने के बावजूद क्षेत्ररक्षण सजाने में मदद करते रहे हैं। चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ अपने पहले मैच पर पंत ने कहा कि मैं क्षेत्ररक्षण सजाने और टीम से जुड़े रणनीतिक निर्णयों को लेकर शिखर धवन, रविचंद्रन अश्विन और अजिंक्य रहाणे से बात कर रहा हूं।

उन्होंने कहा कि मैं रिकी आौर हमारे गेंदबाजी कोच जेम्स होप्स से भी बात कर रहा हूं। हमारी टीम में सीनियर और जूनियर का अच्छा मिश्रण है और मुझे लगता है कि रिकी की मदद से हम इस साल कुछ भिन्न कर सकते हैं। मैं यह नहीं सोच रहा हूं कि यह आईपीएल में कप्तान के रूप में मेरा पहला मैच है। मैं चीजों को सरल बनाये रखकर अपना शत प्रतिशत देना चाहता हूं। विकेटकीपर होने के कारण आपको क्षेत्ररक्षण का अच्छा अनुमान होता है और कप्तान होने से मैं सीधे बदलाव कर सकता हूं। इस बीच पोंटिंग ने कहा कि चेन्नई जैसी टीम हमेशा कड़ी चुनौती पेश करती है और वह अपने प्रत्येक खिलाड़ी से सही दृष्टिकोण की उम्मीद करते हैं।

पोंटिंग ने कहा कि भले ही हमारी टीम थोड़ा भिन्न है लेकिन हमें एक समूह के रूप में अच्छे प्रदर्शन करने और बेहतर परिणाम हासिल करने की उम्मीद है। चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच हमारे लिये केवल एक मैच जैसा है। हमें सही दृष्टिकोण के साथ खेलना होगा और बेहतर प्रदर्शन करना होगा। चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल की सबसे सफल टीमों में से एक है। उनके पास शानदार कप्तान है और बेहतरीन खिलाड़ी है। वे अपने प्रदर्शन में निरंतरता बनाये रखते हैं। 

.
.
.
.
.