Sports

नई दिल्ली : खराब बल्लेबाजी के बावजूद अपने गेंदबाजों के कारण किंग्स इलेवन टीम ने जीत हासिल की। जीत हासिल करने के बाद कप्तान केएल राहुल काफी खुश दिखे। पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान उन्होंने कहा- हां, हम इसे एक आदत बना रहे हैं। पहले हाफ में हम किसी तरह इसे अपनी आदत नहीं बना सके। अगर ईमानदार से कहूं तो मेरे पास अभी भी शब्द नहीं है। लड़कों के शो से बहुत खुश हूं। अक्सर ऐसी परफार्मेंस के लिए पर्दे के पीछे काम होते हैं जिसमें न सिर्फ खिलाड़ी बल्कि सहायक कर्मचारी भी शामिल होते हैं। 

राहुल ने कहा- आप एक खिलाड़ी को दो महीने में ज्यादा नहीं बदल सकते, लेकिन आप हमेशा उन्हें मानसिक रूप से बेहतर बना सकते हैं और यही कोच कुंबले, एंडी, चार्ल, जोंटी और वसीम ने किया है। मेरे और मनदीप ने पहला ओवर खेला, हम जानते थे कि यह उच्च स्कोरिंग विकेट नहीं है। हम 160 के करीब सोच रहे थे। लेकिन पहले छह ओवरों में विकेट कठिन हो गया। 

वहीं गेंदबाजी पर बात करते हुए राहुल ने कहा- मुझे पता था कि अगर हम पावरप्ले में ज्यादा रन नहीं देते तो हमारे पास चांस हो सकते हैं। क्योंकि हमारे पास दो लैग स्पिनर थे। हम बैठ गए और उन चीजों के बारे में सोचा जो गेंदबाजों को इन जैसी परिस्थितियों में चाहिए होती हैं। हम इसमें सफल हुए। जब ऐसा होता है तो अच्छा लगता है।

.
.
.
.
.