Sports

मुंबई : लोकेश राहुल के लगातार जूझने से भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वसीम जाफर काफी निराश हैं और उन्हें लगता है कि इतनी काबिलियत के बावजूद भी कर्नाटक का यह खिलाड़ी ‘एक अनसुलझी पहेली’ में उलझ गया है। टीम प्रबंधन द्वारा लगातार मौके दिए जाने के बावजूद राहुल सलामी बल्लेबाज के तौर पर विफल रहे हैं जिससे टीम में उनके स्थान पर सवाल उठाए गए। राहुल ने पारी का आगाज करते हुए 36 मैचों में 33 में खेलते हुए 36.82 के औसत से रन जुटाए हैं।
जाफर ने कहा- मैं लोकेश राहुल से थोड़ा निराश हूं क्योंकि उसमें इतनी काबिलियत है, वह ऐसा खिलाड़ी है जिसने खेल के सभी तीनों प्रारूपों में 100 रन बनाए हैं। उन्होंने कहा- और उसके आऊट होने के तरीके से मैं थोड़ा निराश हूं क्योंकि वह कभी कभार इतने आराम से आऊट हो जाता है। वह इतना सक्षम है इसलिए उसे इतने मौके मिल रहे हैं क्योंकि लोगों को भरोसा है कि वह अच्छा कर लेगा। जाफर ने कहा- वह जिस तरीके आऊट होता है और जिस तरीके से वह रन नहीं जुटा पाता, इससे मुझे हैरानी होती है।

.
.
.
.
.