Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय क्रिकेट में इस समय कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है और एक के बाद एक विवाद सामने आ रहे हैं। पहले जहां बीसीसीआई और विराट कोहली के बीच में तनातनी देखने को मिली थी। वहीं अब विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा के भारतीय चयनकर्ता से नाखुश हैं और उनके एक बयान ने भारतीय क्रिकेट में भूचाल ला दिया है। अब इस विवाद में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा ने बयान दिया है और मौजूदा कोच राहुल द्रविड़ की आलोचना की है।

विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा ने भारतीय कोच राहुल द्रविड़ की आलोचना करते हुए कहा कि पिछले तीन-चार महीनों में भारतीय क्रिकेट में काफी विवाद देखने को मिले हैं। यह क्रिकेट के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है। अगर साहा के मामले को देखें तो उस पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आई हैं। यह किसी को भी अधिकार नहीं है कि वह खिलाड़ी को कहे कि तुम्हे रिटायरमैंट ले ली चाहिए। यह फैसला सिर्फ वह खिलाड़ी ही कर सकता है।

PunjabKesari

राजकुमार शर्मा ने आगे कहा कि किसी भी खिलाड़ी को चयन करना या ना करना, यह अलग मामला है। भले ही भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने साहा की भलाई के लिए के ही बात कही हो पर उन्हें यह नहीं कहना चाहिए था। यह विवाद और ज्यादा ही गहरा होता जा रहा है। बीसीसीआई को इस तरह के विवादों से दूर रहना चाहिए।

इस पूरे विवाद पर विराट कोहली के राजकुमार शर्मा ने कहा कि बीसीसीआई में हर किसी के रोल तय दिए गए हैं। ऐसे में उन लोगों को अपना काम करना चाहिए और दूसरी बातों पर ध्यान नहीं देना चाहिए। किसी खिलाड़ी को टीम में चुनने का सिर्फ चयनकर्ताओं को ही करने देना चाहिए। साहा के मामले में जो हुआ वह कहीं से भी अच्छा नहीं था।

गौर हो कि साहा ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि द. अफ्रीका दौरे के दौरान ही भारतीय कोच राहुल द्रविड़ ने साफ तौर पर कह दिया था कि उन्हें अब संन्यास ले लेना चाहिए। क्योंकि टीम अब युवा विकेटकीपर की तलाश में है। वहीं मुख्य चयनकर्ता ने भी साहा को बता दिया था कि वह उन्हें श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में मौका नहीं देंगे। 
 

.
.
.
.
.