Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: टीम इंडिया के दिग्गज क्रिकेटरों में से एक सचिन तेंदुलकर (Sachin Ramesh Tendulkar) ने क्रिकेट इतिहास में कई बड़े मुकाम हांसिल किए और कई युवा खिलाड़ियों के लिए रोल मॉडल भी बने। वही मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के पास नाम, दौलत,शोहरत और रुतबे की कोई कमी नहीं है चाहे बात करे उनकी लग्जरी गाड़ियों की या फिर उनके लाइफस्टाइल की सचिन किसी से कम नहीं। ऐसे में सचिन के लिए आज का दिन बेहद खास है। दरअसल, आज के दिन सचिन ने क्रिकेट के मैदान पर अपना पहला कदम रखा था। चाहे सचिन इस मैच में कुछ खास रन नहीं बना पाएं थे, लेकिन यह टैस्ट मैच उनका डेब्यू मैच था। जी, हां तो चलिए आज हम आपको सचिन तेंदुलकर के पहले डेब्यू मैच में हुए कुछ खास पलों के बारे में बताने जा रहे है।

सचिन तेंदुलकर 16 साल की उम्र में खेला था पहला टैस्ट मैच

PunjabKesari, sachin tendulkar photo, sachin tendulkar images, kapil dev photo
उस समय सचिन की उम्र 16 साल थी, उन्होंने कराची के नेशनल स्टेडियम में पाकिस्तान के खिलाफ खेला जा रहा था। वकार यूनुस के सामने बल्लेबाजी की। वकार का भी यह पहला मैच था। वकार यूनुस ने सचिन को जब याद दिलाई कि कैसे उन्होंने 29 साल पहले एकसाथ क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। इस पर सचिन ने कहा कि हां, समय भले ही तेजी से निकल गया हो, पर तुम कभी धीमे नहीं पड़े वकार! 

सचिन तेंदुलकर डेब्यू मैच

PunjabKesari, sachin tendulkar photo, sachin tendulkar images
पाकिस्तान के पहली पारी में 409 रनों के जवाब में भारतीय टीम 41 रनों पर 4 विकेट खो चुकी थी। तेंदुलकर ने 24 गेंदों का सामना किया और वकार यूनुस पर दो चौके लगाकर 15 रन बनाए थे। इसके बाद वकार ने उन्हें बोल्ड कर दिया था। बल्लेबाजी के साथ ही सचिन ने अपने पहले मैच में एक ओवर गेंदबाजी भी की और उसमें 10 रन दिए। सचिन को दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला। 

सचिन तेंदुलकर क्रिकेट को अलविदा 

PunjabKesari, sachin tendulkar photo, sachin tendulkar images
सचिन तेंदुलकर का पहला मैच जो 15 नवंबर को खेला गया था, सहयोग की बात यह रही कि 15 नवंबर को ही उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मुंबई में खेला इस टेस्ट मैच में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ 74 रनों की पारी खेली थी। 15 नवंबर का दिन इसलिए भी खास है क्योंकि सचिन तेंदुलकर ने आज ही के दिन शुरुआत की अपने क्रिकेट खेलने का अंत भी किया, दोनों ही तारीखें इतिहास के पन्नों में छप चुकी है और आज इस खास मौके पर सभी इस दिग्गज खिलाड़ी को याद करते नहीं थक रहे हैं।





 

.
.
.
.
.