Sports

नई दिल्ली : विजय हजारे ट्रॉफी के तहत बिहार के खिलाफ खेले गए मुकाबले को केरल की टीम ने रॉबिन उथप्पा के तूफानी 87 रनों की बदौलत नौ विकेट से जीत लिया। बिहार ने पहले खेलते हुए 50 ओवर में 148 रन बनाए थे जिसे केरल ने महज 8.5 ओवर में एक विकेट खोकर हासिल कर लिया। यानी केरल के बल्लेबाजों ने जीत के लिए महज 53 गेंदें खेलीं। रॉबिन उथप्पा के बल्ले से इस दौरान महज 32 गेंदों में 10 छक्के और चार चौकों की मदद से 87 रन की पारी निकले। उन्होंने एक ओवर में पांच छक्के भी जड़े।

इससे पहले खेलने उतरे बिहार की शुरुआत बेहद खराब रही थी। केरल के तेज गेंदबाजों जलज सक्सेना और श्रीसंथ ने शुरूआती ओवरों में ही बिहार के विकेट निकाल लिए थे। श्रीसंथतो इस दौरान और भी खतरनाक नजर आए। उन्होंने 9 ओवर में 2 मेडल के साथ 30 रन देते हुए 4 विकेट हासिल कीं। वहीं, जलज सक्सेना ने 10 ओवरों में 30 रन देकर तीन विकेट निकाल लीं।

जवाब में खेलने आई केरल को उथप्पा के साथ विष्णुविनोद ने तेजतर्रार शुरूआत थी। विष्णु ने इस दौरान 12 गेंदों में दो चौके और चार छक्कों की मदद से 37 रन बनाए। उनका विकेट पांचवें ओवर में गिरा तब तक केरल 76 रन बना चुका था। लेकिन इसके बाद संजू सैमसन ने भी आते ही बड़े हिट लगाने शुरू कर दिए। संजू सैमसन ने भी 9 गेंदो में नाबाद 24 रन बनाए. उन्होंने अपनी इस पारी में दो चौके और दो छक्के लगाए। इस तरह केरल ने 8.5 ओवर में ही जीत दर्ज कर ली।

.
.
.
.
.