Sports

शारजाह : इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में दो बार के चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने उनके स्पिनर सुनील नारायण की संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए रिपोर्ट किए जाने पर हैरानी व्यक्त करते हुए सोमवार को उम्मीद जताई कि इस मामले का जल्द उचित समाधान निकाला जाएगा। फ्रेंचाइजी ने हालांकि यह नहीं कहा कि नारायण को टीम में लिया जाएगा या नहीं। नारायण की मैदानी अंपायरों ने रिपोर्ट की है और उन्हें चेतावनी सूची में रखा गया है। अगर वर्तमान प्रतियोगिता में उन्हें फिर से रिपोर्ट किया जाता है तो फिर वह आगे गेंदबाजी नहीं कर पाएंगे।

केकेआर ने बयान में कहा, ‘यह फ्रेंचाइजी के लिए हैरानी भरा है विशेषकर तब जबकि वह 2012 से आईपीएल में 115 मैच और 2015 में आईपीएल सत्र के दौरान संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए रिपोर्ट किए जाने के बाद 68 मैच खेल चुके हैं।' रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ मैच से पूर्व जारी किये गये बयान में कहा गया है, ‘हमें उम्मीद है कि इसका जल्द ही उचित समाधान निकाला जाएगा। हम इस मामले के जल्द समाधान के लिए आईपीएल से मिल रहे सहयोग की सराहना करते हैं।'

इस 32 वर्षीय स्पिनर ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ केकेआर की दो रन की नाटकीय जीत के दौरान चार ओवर में 2 विकेट लिए थे। इससे पहले नारायण को 2015 में संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी करने से रोक दिया था। एक्शन में सुधार करने के बाद 2016 के बाद उन्हें सभी प्रारूपों में गेंदबाजी करने की अनुमति दे दी गई थी। 

.
.
.
.
.