Sports

राजकोट : दक्षिण अफ्रीका के स्पिनर केशव महाराज का मानना है कि भारतीय बल्लेबाज दिनेश कार्तिक मैदान में ऐसे क्षेत्र में रन जुटाने की कोशिश करते हैं जहां पर सामान्य रूप से रन नहीं बनते हैं जिससे उन्हें गेंदबाजी करना मुश्किल हो जाता है। कार्तिक ने 27 गेंद में 55 रन की पारी खेली और यह 2006 में पहला टी-20 मैच खेलने के बाद इस प्रारूप में उनका पहला अर्धशतक था। इस पारी की बदौलत भारत शुक्रवार को यहां 5 मैचों की टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला 2-2 से बराबर करने में सफल रहा।

कार्तिक (37 साल) ने इंडियन प्रीमियर लीग में शानदार प्रदर्शन के साथ भारतीय टीम में एक और वापसी की। भारतीय टीम के ‘फिनिशर’ कार्तिक ‘पावरहिटिंग’ पर ही निर्भर नहीं रहते। उन्होंने रन जुटाने के लिए मैदान का अच्छा इस्तेमाल किया। शुक्रवार को उन्होंने स्पिनरों और तेज गेंदबाजों के खिलाफ स्वीप शॉट के अलावा रिवर्स हिट से रन जोड़े।

मैच के बाद महाराज ने कहा कि वह (कार्तिक) शानदार फॉर्म में है और अपनी भूमिका शानदार तरीके से निभा रहा है। वह निश्चित रूप से खेल के सर्वश्रेष्ठ ‘फिनिशर’ में से एक है। वह ऐसे क्षेत्र में रन जुटाता है जो सामान्य नहीं है इसलिए उसे गेंदबाजी करना मुश्किल हो जाता है। उन्होंने कहा कि हमने देखा कि इसलिए ही वह आईपीएल के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन खिलाडिय़ों में से एक था। उसने आज शानदार ‘क्लास’ दिखाई और वह बेहतरीन खेला।

.
.
.
.
.