Sports

नई दिल्ली : चेन्नई सुपर किंग्स के लिए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ अहम मैच में ओपनर रुतुराज गायवकाड़ ने शानदार पारी खेलकर खूब सूर्खियां बटोरीं। गायकवाड़ ने बेंगलुरु के तेज गेंदबाजों और स्पिनरों के खिलाफ जमकर रन बटोरे। अर्धशतक बनाकर टीम को जिताने वाले गायवकाड़ को उनकी पारी के लिए मैन ऑफ द मैच पुरुस्कार मिला। मैच के बाद उन्होंने कहा- यह अच्छा लगता है- टीम के लिए खेलना, जीतना और अंत तक डटे रहना। 

गायवकाड़ बोले- यह मेरे लिए कठिन था, अन्य लोगों की तुलना में अधिक दिनों से मैं रन नहीं बना पा रहा था। लेकिन इस दौरान हर कोई मेरे साथ था - मेरे दोस्त, मेरा परिवार। मैं अच्छा अभ्यास कर रहा था और मुझे पता था कि एक अच्छी पारी मुझे वापस ले आएगी। दुर्भाग्य से सिर्फ तीन मैचों के कारण हम बाहर हो गए लेकिन प्रबंधन ने माही भाई सहित मेरा समर्थन किया। यहां का विकेट धीमा था। लेकिन मैं सोच कर आया था कि किस गेंदबाज को निशाना बनाना है और किसको नहीं। यह मेरे लिए अच्छा रहा।

सीएसके की ओर से 50+ रन बनाने वाले युवा प्लेयर
21 साल, 148 दिन, सुरेश रैना (2008)
22 साल, 142 दिन, सैम कुरैन (2020)
23 साल, 076 दिन, पार्थिव पटेल (2008)
23 साल, 268 दिन, गायकवाड़ (2020)

.
.
.
.
.