Sports

वेलिंगटन: न्यूजीलैंड के पूर्व आलराउंडर क्रेग मैकमिलन ने मंगलवार को कहा कि भारतीय बल्लेबाज इस तरह से खेल रहे थे मानो वे भारत में खेल रहे हों और उनकी इस तरह की बल्लेबाजी काम नहीं आई। भारतीय बल्लेबाज विपरीत परिस्थितियों में नहीं चल पाए और टीम को पहले मैच में दस विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी। 

PunjabKesari
दरअसल, एक रेडियो चैनल से बातचीत के दौरान मैकमिलन ने कहा, ‘वे जिस तरह से खेले उसमें किसी तरह का सामंजस्य नहीं बिठाया। उन्होंने उस तरह से बल्लेबाजी की जैसे वह भारत में करते हैं।' उन्होंने न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों टिम साउदी और ट्रेंट बोल्ट की भी तारीफ की। मैकमिलन ने कहा, ‘जब गेंद स्विंग कर रही हो जैसा कि वेलिंगटन में कर रही थी तो फिर बोल्ट और साउदी का जवाब नहीं है।' उन्होंने न्यूजीलैंड के प्रदर्शन को बेहतरीन करार दिया। मैकमिलन ने कहा, ‘मैंने दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम भारत को इस तरह से चार दिन के अंदर आउट होते हुए नहीं देखा।' 

PunjabKesari
गौरतलब है कि भारत को बेसिन रिजर्व में पहले टेस्ट मैच में दस विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। वह तेज गेंदबाजों के लिये मददगार पिच पर दोनों पारियों में 200 रन तक भी नहीं पहुंच पाया था। दूसरी पारी में तकनीकी तौर पर मंझे हुए बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने बेहद रक्षात्मक रवैया अपनाया और 81 गेंदों पर 11 रन बनाए। हनुमा विहारी ने 79 गेंदें खेलीं और 15 रन बनाए। बल्लेबाजी इकाई किसी भी समय लय हासिल करने में नाकाम रही। पुजारा ने बीच में 28 गेंद तक एक भी रन नहीं बनाया और ऐसे में दूसरे छोर पर खड़े मयंक अग्रवाल को ढीले शॉट खेलने के लिए मजबूर होना पड़ा।

.
.
.
.
.