Sports

चेस्टर-ली-स्ट्रीट : न्यूजीलैंड को विश्वकप मुकाबले में पराजित कर 27 वर्ष के लंबे अंतराल के बाद सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले मेज़बान इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा है कि टीम ने पिछले दोनों मैचों में सकारात्मक सोच के साथ प्रदर्शन किया है। मैच के बाद कप्तान ने कहा, ‘मेरे ख्याल से इस मुकाबले में पूरी टीम ने शानदार प्रदर्शन किया है। शीर्ष क्रम के दोनों बल्लेबाजों ने मजबूत शुरुआत की और जॉनी बेयरस्टो के शतक की बदौलत ही टीम इस मुकाबले को जीतने में सफल रही है।' 

मोर्गन ने कहा, ‘हालांकि 25 ओवर के बाद हमारी बल्लेबाजी धीमी हो गई और इस दौरान जो भी बल्लेबाज बल्लेबाजी करने उतरा वह बड़ी पारी नहीं खेल सका। बोर्ड पर 305 रन का स्कोर चुनौतीपूर्ण था लेकिन मुझे नहीं लगता कि इस मुकाबले में टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा, टीम थोड़ी लड़खड़ा जरुर गई थी।' उन्होंने कहा, ‘मैच के दौरान पिच का धीमा होना पूरे टूर्नामेंट में देखा गया है। अगर पिच ऐसी ही धीमी रही तो हम आगे के मुकाबलों में भी पहले बल्लेबाजी करना पसंद करेंगे। जिस तरह से हमारे बल्लेबाजों ने पिछले दो मुकाबलों में बल्लेबाजी की है वैसा ही प्रदर्शन टीम पिछले दो वर्षों से कर रही है। हमारे शीर्ष क्रम के बल्लेबाज बिना किसी दबाव के बल्लेबाजी कर रहे हैं।'

PunjabKesari

मोर्गन ने कहा, ‘हमारे गेंदबाजों ने भी इस मुकाबले में शानदार प्रदर्शन किया है। गेंदबाज पूरे 50 ओवर तक विकेट लेने में सक्षम हैं और वह ऐसी ही कर रहे हैं। गेंदबाज बल्लेबाजों पर पूरे मैच में दबाव बनाने में कामयाब रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि ऐसा प्रदर्शन विश्वकप के अन्य मुकाबलों में भी जारी रहेगा।' गौरतलब है कि न्यूजीलैंड को 119 रन से हराकर इंग्लैंड सेमीफाइनल में पहुंच चुका है जबकि ऑस्ट्रेलिया और भारत पहले से ही सेमीफाइनल में प्रवेश कर चुके हैं।

.
.
.
.
.