Sports

अबू धाबी : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ मैच के दौरान सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर का विकेट गिरने से पूर्व क्रिकेटरों में विवाद हो गया। दरअसल, वार्नर के आऊट होने के निर्णय पर दिग्गजों ने सवाल उठाए और खराब अंपायरिंग को इसके लिए जिम्मेदार माना।  दरअसल, बेंगलुरु के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की एक गेंद वार्नर के बल्ले और पेट के पास से निकली थी जिसे विकेटकीपर एबी डिविलियर्स ने लपक लिया। गेंद किसी चीज को छूई थी या वार्नर के दस्ताने या उनकी पतलून के साथ, लेकिन वीडियो में यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा था। 

ऑन-फील्ड अंपायर एस रवि ने इसे नॉट आउट करार दिया था। लेकिन आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने डीआरएस का सहारा लिया। थर्ड अंपायर वीरेंद्र शर्मा ने कई बार रिप्ले देखे। और किनारा को संदेहपूर्ण बताया। हालांकि उन्होंने बाद में वार्नर को आऊट करार दे दिया। इस पर कांमेंटेटर पॉमी एमबींगवा ने तुरंत फैसले की आलोचना कर दी। उन्होंने कहा- यह आऊट नहीं थे। चूंकि सबूत निर्णायक नहीं थे और ऑन-फील्ड अंपायर का निर्णय नॉट आऊट था ऐसे में थर्ड अंपायर को संदेह के मामले में ग्राऊंड अंपायर का फैसला सुरक्षित रखना चाहिए था जबकि ऐसा नहीं हुआ।

न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर स्कॉट स्टायरिस ने कहा- थर्ड अंपायर का यह कैसा निर्णय। क्या डेविड वार्नर आऊट से। कुछ साफ नहीं था। निर्णायक सबूत नहीं थे फिर भी थर्ड अंपायर का फैसला पलट दिया गया। भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर, जो एमबींगवा के साथ टिप्पणी कर रहे थे, ने टीवी पर विवाद को समाप्त करते हुए कहा कि अंपायर के फैसले का सम्मान करने की आवश्यकता है। 

.
.
.
.
.