Sports

मुंबई: वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा टेस्ट मैचों के समय को लेकर चिंतित नहीं हैं क्योंकि वह सिर्फ नतीजा देखना चाहते हैं। टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा व्यक्तिगत स्कोर (नाबाद 400) के रिकार्डधारी लारा ने यह भी कहा कि दिन/रात्रि टेस्ट आकर्षण का केंद्र रहे लेकिन खेल के लंबे प्रारूप को लोकप्रिय बनाने के लिए यह आगे बढ़ने का तरीका नहीं हैं। 

चार दिवसीय या पांच दिवसीय टेस्ट पर उनकी राय पूछने पर लारा ने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट से मैं सिर्फ एक ही चीज चाहता हूं कि हर कोई जो क्रिकेट देखता है कि वह जानता है कि मैच नतीजे के साथ ही समाप्त होगा और यही चीज दिलचस्पी जगाएगी।' लारा ने आगे  कहा, ‘अगर यह पांच दिवसीय है या चार दिवसीय, मायने नहीं रखता। अगर हर मैच किसी तरह नतीजे पर खत्म होता है तो मुझे लगता है कि पहले दिन और अंतिम दिन दिलचस्पी जगेगी ही।' महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर और भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पांच दिवसीय क्रिकेट का समर्थन किया है जबकि वे चार दिवसीय क्रिकेट के खिलाफ हैं।

.
.
.
.
.