Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : क्रिकेट के खेल में खराब अंपायरिंग होना कोई नई बात नहीं लेकिन कई बार खराब अंपायरिंग की वजह से टीमों को हार का सामना भी करना पड़ा है। क्रिकेट के खेल में विकसित तकनीक आ गई हैं बावजूद इसके खिलाड़ियों को अंपायर के गलत फैसले का शिकार होना पड़ रहा है। ऐसा ही कुछ मामला ऑस्ट्रेलिया की टी20 लीग बिग बैश में देखने को मिला। जहां अंपायर के गलत निर्णय का शिकार बल्लेबाज मिचेल मार्श को होना पड़ा। 

PunjabKesari

दअरसल बिग बैश लीग में पर्थ स्कॉचर्स और सिडनी सिक्सर्स के बीच में खेला गया है। पारी के 13वें ओवर में सि़डनी के गेंदबाज स्टीव ओ कीफ गेंदबाजी करने के लिए आए। ओ कीफ ने गेंद फेंकी और मिचेल मार्श ने इसे खेलने की कोशिश की। लेकिन गेंद सीधा उनके पैरों के पीछे से विकेटकीपर ने पकड़ ली और उसने अंपायर से अपील कर दी। अंपायर ने विकेटीकपर और गेंदबाज की अपील के बाद मार्श को आउट दे दिया।  

अंपायर के इस फैसले से मिचेल मार्श को एक समय यकीन ही नहीं हुआ कि उनके साथ क्या हो रहा है। कुछ देर के लिए तो क्रीज पर ही खड़े रहे। अंपायर के इस फैसले मार्श काफी गुस्से हो गए। उन्होंने पवेलियन जाते हुए अंपायर को गालियां दी जो कैमरे में रिकॉर्ड हो गई। 

इस मुद्दे को लेकर एक बार फिर बहस तेज हो गई है कि क्या नई तकनीक आ जाने पर अंपायरिंग का स्तर गिर गया है। वहीं इस मुद्दे पर इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड और ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। ब्रॉड ने अंपायरिंग पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह बेहद नजदीकी मामला है। इसे टीवी अंपायर को देखना चाहिए। वहीं स्टोक्स ने कहा कि डीआरस अंपायर को बुरा दिखान के लिए नहीं लाया गया है। इसे देखना बहुत खराब है जब आपके पास इसे ठीक करने के तरीके हों।  
 

.
.
.
.
.