Sports

नई दिल्ली : रणजी ट्रॉफी सीजन के दौरान श्रीनगर के तेज गेंदबाज परवेज रसूल ने बड़ा रिकॉर्ड बना दिया है जो इससे पहले किसी भी ऑलराऊंड क्रिकेटर के नाम नहीं था। परवेज ने मौजूदा सीजन के दौरान 300 से ज्यादा रन तो बनाए ही हैं साथ ही साथ 30 से ज्यादा विकेट भी हासिल की हैं। खास बात यह है कि परवेज लगातार चार सीजन यानी 2012/13, 2016/17, 2018/19 और 2019/20 में यही कारनामा दोहराने वाले पहले क्रिकेटर भी बन गए हैं। इससे पहले तीन सीजन में यह डबल रिकॉर्ड बनाने का कारनामा जलज सक्सेना कर चुके थे।
अगर रणजी के एक सीजन में 300+ रन और 25+ विकेट की बात जाए तो परवेज ने इस मामले में रिषी धवन का रिकॉर्ड बराबर कर लिया है। दोनों ने यह मर्ताबा यह कारनामा कर दिखाया है। 

पार्थिव पटेल ने भी दो बड़े रिकॉर्ड बनाए

parthiv patel punjab kesari sports के लिए इमेज नतीजे

अकेले परवेज रसूल ही नहीं रणजी सीजन में गुजरात के क्रिकेटर पार्थिव पटेल ने भी कुछ बड़े रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं। रणजी ट्रॉफी के इतिहास में पार्थिव अब पांचवें विकेटकीपर हो गए हैं जिन्होंने 300+ शिकार बतौर विकेटकीपर किए हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड नमन ओझा (351), विनायक सामंत (335), महेश रावत (313) और पिनल शाह (311) के नाम था। इसके साथ ही पार्थिव ने फस्र्ट क्लास क्रिकेट में 11000 रन भी पूरे कर लिए। पार्थिव 27 सेंचुरी लगा चुके हैं। उनकी औसत 43 है।

केएस भरत ने भी बनाया रिकॉर्ड

All-rounder Pervez Rasool of Jammu and Kashmir made such a record

केएस भरत भी फस्र्ट क्लास क्रिकेट के महज दूसरे भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं जिन्होंने दो बार एक पारी में 10 से ज्यादा शिकार किए। भरत ने सौराष्ट्र के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में 11 तो साऊथ अफ्रीका ए के खिलाफ 2018 में हुए अनऑफिशियल टेस्ट में भी 10+ शिकार किए थे। भरत के अलावा विद्धिमन साहा भी फस्र्ट क्लास क्रिकेट में यह रिकॉर्ड बना चुके हैं।
 

.
.
.
.
.