Sports

सिडनी : ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली का मानना है कि भारत पहली बार महिला टी20 विश्व कप के फाइनल में जगह बनाएगा और इसका कारण उन्होंने टीम में 16 साल की शेफाली वर्मा जैसी स्टार खिलाड़ियों की मौजूदगी को बताया। शेफाली के अलावा मौजूदा टूर्नामेंट में अनुभवी लेग स्पिनर पूनम यादव ने भारत की ओर से शानदार प्रदर्शन किया है। हरमनप्रीत कौर की अगुआई वाली टीम ग्रुप चरण में अपने सभी चारों मैच जीतकर शीर्ष पर रही और गुरुवार को यहां सेमीफाइनल खेलेगी।

आईसीसी ने ली के हवाले से कहा, ‘वे कभी फाइनल में नहीं पहुंचे हैं लेकिन पहले जो टीमें देखी हैं यह उनकी तुलना में भारत की बिलकुल अलग टीम है। उनके पास शेफाली वर्मा और पूनम यादव जैसी मैच विजेताएं हैं जो गेंद और बल्ले से लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं।' उन्होंने कहा, ‘हमें हमेशा से पता था कि उनके पास दुनिया की कुछ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं लेकिन अब हरमनप्रीत कौर के पास ऐसी खिलाड़ी हैं जो बड़े खिलाड़ियों का साथ देती हैं और उनके विफल रहने पर योगदान देती हैं।' 

ली का मानना है कि विरोधी टीम विशेष प्रयास करके ही भारत को पहली बार फाइनल में जगह बनाने से रोक सकती है। उन्होंने कहा, ‘वे पूरे आत्मविश्वास के साथ सेमीफाइनल में जाएंगे और बेहतरीन टीम ही उन्हें फाइनल में जगह बनाने से रोक सकती है।' टूर्नामेंट में अब तक 47, 46, 39 और 29 रन की पारी खेल चुकी शेफाली की तारीफ करते हुए ली ने कहा कि यह युवा खिलाड़ी सेमीफाइनल में बड़ा स्कोर खड़ा करेगी। ली ने कहा, ‘शेफाली वर्मा ने शीर्ष क्रम में शानदार प्रदर्शन किया है, वह भारतीय बल्लेबाजी में नई उर्जा लेकर आई है और उसे खेलते हुए देखना बेहतरीन है।' 

.
.
.
.
.