Sports

इंफाल : केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू का कहना है कि भारत अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक में अबतक का सबसे बड़ा दल भेजेगा। रिजिजू ने खुमन लम्पक स्पोट्र्स कामप्लेक्स, नेशनल स्पोट्र्स यूनिवर्सिटी (एनएसयू) और भारतीय खेल प्राधिकरण का दौरा किया। उन्होंने कहा कि एनएसयू देश का प्रतीकात्मक केंद्र बनेगा। देश और दुनिया के विभिन्न स्थानों से लोग इस यूनीवर्सिटी को देखने आएंगे।

एनएसयू में स्पोटर्स, स्वास्थ और तकनीक जैसे अन्य कई कोर्स जल्द ही पढ़ाए जाएंगे। रिजिजू ने आश्वासन दिया कि वह इसे एक वर्ष के अंदर ही चालू करवाएंगे। रिजिजू ने खुमन लम्पक इंडोर स्टेडियम में जूडो खिलाडिय़ों और कोच से मुलाकात की। उन्होंने हॉकी स्टेडियम का भी दौरा किया। एनएसयू स्थल में लोगों को संबोधित करते हुए रिजिजू वे कहा कि उन्हें बेहद खुशी है कि वह यहां आए और उन्होंने इस स्थल को देखा। 

रिजिजू ने कहा- खेल मंत्रालय का पद संभालने के बाद पहली ही बैठक में उन्होंने एनएसयू को अपने एजेंडे में शामिल किया था। एनएसयू की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में ही कर दी थी। इसके बाद से ही वह लगातार इसके बारे में जानकारी ले रहे हैं। हालांकि वह तब खेल मंत्री के पद पर नहीं थे। रिजिजू ने मणिपुर में बन रहे एनएसयू के निर्माण में हो रही देरी को लेकर चिंता व्यक्त की।
 

.
.
.
.
.