Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: आस्ट्रेलिया के स्टार ओपनर डेविड वार्नर ने टेस्ट का पहला तिहरा शतक लागकर अपने करियर की बेस्ट 335 रनों की पारी खेली। वही तिहरे शतक लगाने के बाद वार्नर की निगाहें विंडीज के दिग्गज खिलाड़ी ब्रायन लारा के 400 रनों के रिकार्ड पर थी। लेकिन कप्तान टिम पेन ने पारी घोषित कर दी। ऐसे में दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद डेविड वार्नर ने पेन के फैसले को लेकर अपनी बात सबके सामने रखी। 

PunjabKesari
दरअसल, दूसरे दिन का खेल ख्त्म होने के बाद डेविड वार्नर ने कहा, 'मुझे लगता है कि जब टी ब्रेक पर गए तो उन्होंने कहा हम अब घोषणा कर रहे हैं, उन्होंने ये कहा कि 5.40 बजे, और मैंने कहा ठीक है।' मैं पूछता रहा कि हम जब वहां गए तो हमें पांच मिनट मिले, इतना ही नहीं 10 मिनट भी हो गए थे। और मैं सुनिश्चित कर रहा हूं कि अभी भी यही संदेश था। जब तक मुझे लगता है कि समय खत्म हो चुका था। तब तक शाम के 5.40 हो चुके थे। टीम पेन चाहते थे कि मैं 334 का स्कोर कर सकूं।' 

PunjabKesari
आपको बता दें कि पाकिस्तान के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में दोहरा शतक जमाने के चूके वार्नर ने दूसरे मैच में कमाल की बल्लेबाजी की है। उन्होंने पहले अपना दोहरा शतक पूरा किया और इसके बाद तिहरा शतक जमाते हुए इतिहास रच दिया। वार्नर ने पहले दिन 156 गेंद पर अपना शतक बनाया था। दूसरे दिन उन्होंने तेजी से रन बनाते हुए महज 260 गेंद पर दोहरा शतक बना डाला और फिर 389 गेंद पर तिहरा शतक भी पूरा कर लिया। 

.
.
.
.
.