Sports

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर के शुरू होने के बाद बायो-सुरक्षित माहौल में रहना क्रिकेटरों के लिए बड़ी भूमिका निभाएगा। बोल्ट उन बड़े खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो गए जिन्होंने कोविड-19 महामारी के बीच जैव-सुरक्षित माहौल में जीवन के बारे में चिंता जताई है, उन्होंने इसे ‘बड़ा त्याग' करार दिया है। 

PunjabKesari

बोल्ट ने कहा कि मैं सभी के लिए नहीं बात कर सकता लेकिन यह निश्चित रूप से खेल में बड़ी भूमिका निभाएगा। न्यूजीलैंड में वापसी के बाद आपको दो हफ्ते एक होटल में बिताने होंगे जिसके बाद ही आपको बाहर जाने दिया जाएगा। इस समय दुनिया जिस चीज का सामना कर रही है, यह पागलपन ही है। यह काफी मुश्किल होने वाला है कि खिलाड़ी कैसा महसूस कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आईपीएल में खेलने के बारे में बात करते हुए कहूं तो मैदान पर वापसी करना शानदार था और प्रत्येक के लिए क्रिकेट देखने के लिए कुछ करना शानदार था और पूरी दुनिया में इसे देखा भी गया। बोल्ट से पहले डेविड वार्नर, मिशेल स्टार्क और कागिसो रबाडा ने ‘बायो-बबल' की तुलना लग्जरी युक्त जेल से की थी। बोल्ट इस समय संयुक्त अरब अमीरात से आईपीएल से लौटने के बाद क्राइस्टचर्च में 14 दिन के पृथकवास में हैं। न्यूजीलैंड को 27 नवंबर से वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 घरेलू श्रृंखला खेलनी है जिसके लिये बोल्ट को आराम दिया गया है। 

.
.
.
.
.