Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : एशेज सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड के खिलाफ बल्लेबाजी करने उतरे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मार्नस लाबुशेन ने इतिहास रच दिया है। स्टीव स्मिथ की जगह बल्लेबाजी करने उतरे लाबुशेन टेस्ट क्रिकेट में पहले ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं जो सब्स्टीट्यूट के तौर पर बल्लेबाजी करने उतरे।

PunjabKesari

लाबुशेन एक ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं और सब्स्टीट्यूट के तौर पर उनका मैदान में उतरना टीम के फायदेमंद साबित हुआ क्योंकि उन्ही की 59 रनों की पारी की वजह से मैच ड्रॉ करवाने में भी अहम रोल अदा किया। एशेज सीरीज वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का हिस्सा है और इस टूर्नामैंट में आईसीसी के नए नियम लागू है। नए नियमों के मुताबिक किसी बल्लेबाज के सिर या गर्दन में चोट लगने के बाद उसकी जगह सब्स्टीट्यूट खिलाड़ी से बल्लेबाजी करवाई जा सकती है। 

गौर हो कि एशेज सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन लॉर्ड्स में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर बाॅउंसर के कारण ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ बुरी तरह चोटिल हो गए थे और उन्हें रिटायर्ड हर्ट होकर बाहर जाना पड़ा था। आर्चर की ये गेंद 148 कि.मी. प्रतिघंटा की रफ्तार से स्मिथ की गर्दन पर लगी थी। 

.
.
.
.
.