T20-world-cup-2021
Sports

मुंबई : श्रेयस अय्यर के पिता संतोष का वाट्सअप डीपी पिछले चार साल से नहीं बदला है जिसमें उनके बेटे ने हाथ में 2017 बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी थाम रखी है। इसका कारण यह है कि वह हमेशा से अपने बेटे को टेस्ट क्रिकेट खेलते देखना चाहते थे। उनका सपना पूरा हुआ जब गुरूवार को श्रेयस ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया। अय्यर ने नाबाद अर्धशतक जमाकर अपने पहले टेस्ट को यादगार बना दिया।

पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद उनके पिता ने कहा कि यह डीपी मेरे दिल के करीब है। जब वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में खेल रहा था तब विराट कोहली के स्टैंडबाय के रूप में टीम में था। उस समय मैच जीतने के बाद उसे ट्रॉफी दी। उसने वह ट्रॉफी थाम रखी है और वह पल मेरे लिए अनमोल है। मैं इंतजार कर रहा था कि श्रेयस भारत के लिए टेस्ट खेलेगा। 

जब अजिंक्य रहाणे ने कहा कि वह खेल रहा है तो वह मेरे जीवन का सबसे खुशनुमा पल था। आईपीएल, वनडे या किसी भी प्रारूप से बढकर मेरे लिए टेस्ट क्रिकेट है। श्रेयस को टेस्ट कैप सुनील गावस्कर से मिली जो उनके पिता के लिए गर्व का पल था। उन्होंने कहा कि सुनील गावस्कर मेरे पसंदीदा क्रिकेटरों में से एक हैं और यह गर्व का पल था। मेरे पास अपनी खुशी जाहिर करने के लिये शब्द नहीं हैं। 

.
.
.
.
.