Sports

टोक्यो : जापान की सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी ( एलडीपी) के एक कार्यकारी ने कहा है कि कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के बीच प्रशंसकों की मौजूदगी के बिना भी अगले वर्ष टोक्यो में ओलंपिक को निश्चित रूप से होना चाहिए। जापान के जेआईजेआई प्रेस के अनुसार एलडीपी के कार्यकारी एवं जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के करीबी ने कहा, ‘प्रशंसको के बिना भी ओलम्पिक का निश्चित रूप से आयोजन होना चाहिए।' जापान के टोक्यो में अगले वर्ष ओलंपिक 23 जुलाई से आठ अगस्त तक होंगे। 

ओलंपिक के आयोजन को लेकर मुश्किल यह है कि जापान में जुलाई की शुरुआत से कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं।जापान की राजधानी टोक्यो में रविवार को कोरोना वायरस के 239 नये मामलों की पुष्टि हुई है। जापान की राजधानी टोक्यो में लगातार छठे दिन कोरोना वायरस के 200 से अधिक मामले सामने आए हैं। सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जेआईजेआई से कहा, ‘‘अगले वर्ष तक कोरोना वायरस को पूरी तरह समाप्त कर टोक्यो में ओलंपिक का आयोजन कराना मुश्किल है। हमारा उद्देश्य कोरोना वायरस के बीच ओलंपिक के आयोजन का प्रबंध करना है।' 

अधिकारी ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण ओलंपिक के उद्घाटन समारोह में प्रत्येक देश या क्षेत्र से प्रतिभागियों की संख्या सीमित हो सकती है। एलडीपी के एक नेता ने कहा कि कई लोगों को लगता है कि जापान को ओलंपिक रद्द कर देना चाहिए और इस बार ओलम्पिक होना असंभव है। एलडीपी के एक वरिष्ठ सदस्य ने कहा, ‘अगर ओलंपिक और पैरालंपिक रद्द किये जाते हैं तो प्रशासन को बड़ा झटका लगेगा।' 

.
.
.
.
.