Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पाकिस्तान क्रिकेट और विवादों का पुराना नाता है। हाल ही में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की टीम चयन प्रक्रिया पर खिलाड़ियों ने सवाल उठाए थे। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर, जुनैद खान और वहाब रियाज ने पाकिस्तान की टीम में पक्षपात और भाई भतीजावाद के आरोप लगाए थे। अब इस लिस्ट में पाकिस्तान के दिग्गज बल्लेबाज शोएब मलिक का नाम भी जुड़ गया है। शोएब मलिक ने भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए बयान दिया है। 

शोएब मलिक ने कहा कि मेरी किस्मत में जो कुछ है वह ऊपर वाले की देन है और इस पर किसी का व्यक्ति के नियंत्रण में नहीं है। अगर मुझे दोबारा खेलने के लिए नहीं कहा गया तो मुझे कोई पछतावा नहीं होगा, लेकिन अगर मैंने अपने साथी क्रिकेटरों की ओर से बात नहीं की होती तो मुझे और अफसोस होता।

शोएब मलिक ने कहा कि हमारे क्रिकेट में पसंद-नापसंद का एक सिस्टम है, जो कि दुनिया के बाकी हिस्सों में भी मौजूद है, लेकिन हमारी संस्कृति में कुछ ज्यादा ही लगता है। जिस दिन हमारे क्रिकेट सिस्टम में चीजें बदल जाती हैं, जहां किसी व्यक्ति को जानने के बजाय कौशल को अधिक महत्व दिया जाता है, तभी चीजें सुधरेंगी।

शोएब मलिक ने आगे कहा कि हाल ही में टीम के कई खिलाड़ियों को मौजूदा कप्तान बाबर आजम रखना चाहते थे लेकिन उनका चयन नहीं किया। हर किसी का अपनी राय है लेकिन टीम चुनने का अधिकार टीम के कप्तान को होना चाहिए क्योंकि वह ही मैदान में अपने साथी खिलाड़ियों के साथ विपक्षी टीम के खिलाड़ियों का सामना करता है। 

.
.
.
.
.