Sports

तोक्यो : अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के एक वरिष्ठ सदस्य ने कहा है कि जापान और अन्य देशों में कोविड-19 महामारी के बढ़ने के कारण उन्हें यकीन नहीं है कि छह महीने बाद तोक्यो ओलंपिक खेलों का आयोजन हो पाएगा। जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने गुरुवार को तोक्यो और आसपास के क्षेत्रों में आपात स्थिति की घोषणा की जिसके बाद कनाडा के आईओसी सदस्य रिचर्ड पाउंड ने यह टिप्प्णी की।

पाउंड ने तोक्यो खेलों के भविष्य के बारे में कहा, ‘मैं पूरे यकीन से नहीं कह सकता क्योंकि वायरस अब भी फैल रहा है।' जापान में आपात स्थिति का आदेश फरवरी के पहले सप्ताह तक रहेगा। तोक्यो में गुरुवार को कोरोना वायरस के 2447 नये मामले सामने आए जो पहले दिन की तुलना में दोगुना है। तोक्यो के लिये यह महत्वपूर्ण समय है। आयोजक कह रहे हैं ओलंपिक खेलों का आयोजन होगा लेकिन वह अपनी ठोस योजना का खुलासा नहीं कर रहे हैं।

पाउंड ने इसके साथ कहा कि टीकाकरण में खिलाड़ियों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए क्योंकि वे ‘रोल मॉडल' है। यह आईओसी अध्यक्ष थामस बॉक के बयान से उलट लगता है। बॉक ने नवंबर में कहा था कि खिलाड़ियों को टीके की जरूरत नहीं पड़ेगी और उन्हें प्राथमिकता में नहीं रखा जाना चाहिए। 

.
.
.
.
.