Sports

ब्यूनस आयर्स : पिछले दो साल में अपने पहले विदेशी दौरे पर गए स्टार ड्रैग फ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह ने कहा कि ओलंपिक चैंपियन अर्जेंटीना के खिलाफ भारतीय हॉकी टीम को मैदान पर बहुत नाटकीय होने के बजाय अपना नैसर्गिक खेल खेलना चाहिए। भारतीय टीम के साथ यहां पहुंचने वाले रूपिंदर हैमस्ट्रिंग के कारण फरवरी में यूरोप दौरे पर नहीं जा पाए थे। अर्जेंटीना के अपने 16 दिवसीय दौरे में भारतीय टीम छह मैच खेलेगी जिनमें 11 और 12 अप्रैल को होने वाले प्रो लीग के मैच भी शामिल हैं।

हॉकी इंडिया की विज्ञप्ति के अनुसार रूपिंदर ने कहा- मैं ओलंपिक चैंपियन के खिलाफ खेलने को लेकर बेहद उत्साहित हूं। प्रतिस्पर्धी हॉकी से यह लंबा विश्राम रहा। मैं आखिरी बार सितंबर 2019 में विदेशी दौरे पर गया था जब हम एंटवर्प, बेल्जियम में खेले थे।

रूपिंदर टीम के यूरोप दौरे पर रवाना होने से एक सप्ताह पहले चोटिल हो गए थे। उन्होंने कहा- पिछले साल मैं अच्छी लय में थे। अब अर्जेंटीना के खिलाफ सब कुछ लय हासिल करने से जुड़ा होगा। नैसर्गिक हॉकी खेलना महत्वपूर्ण है जैसा कि मुख्य कोच ग्राहम रीड कहते रहे हैं कि कुछ भी नाटकीय करने की जरूरत नहीं है। ध्यान आधारभूत कौशल, मजबूत रक्षण, मैदान पर अच्छे संवाद और एक दूसरे के बीच समन्वय पर होगा। भारतीय टीम अर्जेंटीना के खिलाफ पहला अभ्यास छह अप्रैल को खेलेगी।

.
.
.
.
.