Sports

नई दिल्ली : मुंबई इंडियंस के कप्तान शारजहा के मैदान पर एक बार फिर से खेलने के लिए उतरे। क्रिकेट फैंस इससे इसलिए भी हैरान हुए क्योंकि बीसीसीआई ने बीते दिनों ही रोहित को अनफिट मानते हुए ऑस्ट्रेलियाई दौरे से बाहर किया था। रोहित जब मैच में उतरे तो बीसीसीआई के रोहित के अनफिट के दावे पर पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी अपनी राय रखी। सहवाग ने कहा- मैं सरप्राइज हूं। जो खिलाड़ी आईपीएल में अपनी फ्रेंचाइजी के लिए खेलने के लिए तैयार है उसका सिलेक्शन देश के लिए खेलने वाली टीम में नहीं हुआ।

Rohit Sharma, fitness report, मुंबई इंडियंस, सहवाग, Ravi Shastri, Believe,Virender Sehwag, IPL news in hindi, Sports news, MI vs SRH, Mumbai indians

सहवाग बोले- रोहित मैच खेल रहे हैं जबकि बीसीसीआई ने कहा था कि उन्हें गंभीर चोट है। कहीं न कहीं मिस मैनेजमैंट हुआ है। बीसीसीआई को चोट पर पूरी जानकारी लेनी चाहिए थी। ऊपर से रोहित को ऑस्टे्रलिया जाने वाली टीम इंडिया में रखा ही नहीं गया। आप उन्हें टीम में रख सकते हैं ताकि अगर वह जख्मी हो तो उनकी जगह किसी और को बुलाया जाए। लेकिन उन्हें जगह ही नहीं मिली। और वही रोहित मैच खेल रहे हैं।

Rohit Sharma, fitness report, मुंबई इंडियंस, सहवाग, Ravi Shastri, Believe,Virender Sehwag, IPL news in hindi, Sports news, MI vs SRH, Mumbai indians

सहवाग ने कहा- रोहित बड़े प्लेयर है। ऑस्ट्रेलिया दौरे फरवरी तक होना है। ऐसे में आप क्या उदाहरण सेट कर रहे हैं। रोहित के करोड़ों फैन हैं। वह देख रहे हैं कि रोहित को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर इसलिए नहीं लिया गया क्योंकि वह चोटिल है। लेकिन रोहित तो खेल रहे हैं। इसमें कहीं न कहीं बीसीसीआई की मिस मैनेजमैंट नजर आती है। हो तो यह भी सकता था कि रोहित को टीम में रखते और उनके नाम के आगे  सब्जेक्ट टू फिटनेस लिख देते। ताकि अगर रोहित फिट नहीं होते तो उन्हें मैच में मौका नहीं देते। लेकिन आप उन्हें टूर पर ही नहीं ले जा रहे।

Rohit Sharma, fitness report, मुंबई इंडियंस, सहवाग, Ravi Shastri, Believe,Virender Sehwag, IPL news in hindi, Sports news, MI vs SRH, Mumbai indians

सहवाग ने सौरव गांगुली और रवि शास्त्री की स्टेटमैंट पर कहा कि ऐसा कभी नहीं हो सकता कि कोच शास्त्री को रोहित की फिटनेस के बारे में कोई जानकारी न हो। हां, कोच कोर कमेटी का हिस्सा नहीं होते हैं लेकिन शायद सिलेक्शन से एक दिन पहले उनसे सलाह ली जाती है क्या बेहतर हो सकता है। ऐसा नहीं हो सकता कि आप भारतीय टीम के कोच हो और आपसे सिलेक्टर ने कुछ न पूछा होगा। या आपको इतनी बड़ी बात न बताई होगी कि रोहित चोटिल है इसलिए उन्हें ऑस्ट्रेलिया दौरे पर नहीं ले जा सकते। यह मानना मुश्किल है।

वहीं, शो के दौरान क्रिकेट एक्सपर्ट के तौर पर शामिल हुए मनोज तिवाड़ी ने कहा- मिस मैनेजमैंट कहीं न कहीं दिख रही है। आप देख सकते हैं कि रवि शास्त्री का जो बीते दिनों बयान आया था जिसमें उन्होंने कहा था कि मैं सिलेक्शन प्रक्रिया का हिस्सा नहीं हूं। लेकिन रोहित और ईशांत चोटिल हैं। उनका खेलना संदिग्ध है। फिर गांगुली का एक और बयान आया। यह सारी प्रक्रिया कहीं न कहीं ईशारा कर रही है कि सौरव गांगुली और रवि शास्त्री में बीते कुछ समय से रही अनबन अब ऐसे विवादित मामले बाहर ला रही है।

.
.
.
.
.