Sports

चेन्नई : युवा खिलाड़ी रौनक साधवानी ने संयुक्त अरब अमीरात के खिलाफ 44वें चेस ओलिम्पियाड में पहले दौर के मैच में अब्दुलरहमान एम पर शानदार जीत दर्ज करके इंडिया ‘बी’ के अभियान को मजबूत शुरुआत दिलाई। चेन्नई के मामल्लापुरम में शुरू हुए इस ऐतिहासिक शतरंज टूर्नामेंट का उद्घाटन केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने विदित गुजराती के बोर्ड पर पहली चाल चल करके किया। 5 बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद, फिडे अध्यक्ष अकर्डी ड्वोकरविच, ऑल इंडियन चेस फेडरेशन के अध्यक्ष संजय कपूर और चेस ओलिम्पियाड के निदेशक भरत सिंह चौहान इस अवसर पर मौजूद थे।

चेस ओलिम्पियाड में पहली बार भाग ले रहे नागपुर के 16 वर्षीय रौनक ने सफेद मोहरों के साथ खेलते हुए सिसिलियन डिफेंस में खेली गई बाजी 41 चालों में जीती। खुली जगह पर मिली बढ़त का आनंद लेते हुए रौनक ने छोटे मोहरों के आदान-प्रदान के बाद राजा की तरफ मोर्चा खोला और वजीर व हाथी के बीच कुशल संयोजन का प्रदर्शन करते हुए काले राजा को शह-मात के जाल में फंसाया।

बाजी जीतने के बाद रौनक ने कहा कि मैं जीत के साथ शुरुआत करके खुश हूं। यह मेरा पहला ओलिम्पियाड है। मुझे एक अच्छी बाजी खेलकर बहुत अच्छा लगा है। हम अच्छा शतरंज खेलना चाहते हैं। मुझे लगता है कि अमेरिका के पास सबसे मजबूत लाइन-अप है लेकिन अगर हम अच्छी शतरंज खेलते हैं तो हम उन्हें हरा भी सकते हैं। हमें सभी टीमों को गंभीरता से लेना चाहिए क्योंकि कोई भी खिलाड़ी अच्छा खेल सकता है। यह ओलिम्पियाड है।

188 में से कुल 184 टीमों ने शुक्रवार को इस 11 राउंड स्विस लीग टूर्नामेंट में अपने अभियान की शुरुआत की, जहां भारत की तीन टीमें ओपन सेक्शन में हिस्सा ले रही हैं। अधिबान बी, निहाल सरीन और गुकेश डी भारत बी के लिए इस राउंड की अगली बाजियां खेलेंगे जबकि पहले दौर के लिए आर प्रज्ञाननंधा को आराम दिया है।

प्रत्येक टीम में पांच खिलाड़ी हैं, जिसमें चार खिलाड़ी राउंड के लिए चेस बोर्ड पर उतरेंगे और एक खिलाड़ी को आराम दिया जाएगा। शतरंज के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है, जब भारत प्रतिष्ठित चेस ओलिम्पियाड की मेजबानी कर रहा है। यह ऐतिहासिक टूर्नामेंट 10 अगस्त तक खेला जाएगा। 

.
.
.
.
.