Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : आईपीएल दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग है और इस टूर्नामेंट में खेलना आज हर क्रिकेटर का सपना है। आईपीएल के मुकाबले में दुनिया की कोई भी दूसरी बड़ी क्रिकेट लीग नहीं है। वहीं आईपीएल की तुलना पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष रमीज राजा ने बयान दिया था। रमीज ने कहा था कि अगर पाकिस्तान सुपर लीग में ऑक्शन की प्रक्रिया आ जाए तो खिलाड़ी आईपीएल नहीं बल्कि पीएसएल खेलने को अहमियत देंगे। इस पर भारत के पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने करारा जवाब दिया है।

आकाश चोपड़ा ने कहा कि आईपीएल को सबसे ज्यादा कमाई इसके राइट्स बेचने से मिलते हैं। इसका मतलब होता है कि आप किसी लीग और टीम के आंकलन करने के बाद इसका मूल्य लगा रहे हैं। फिर इसके बाद आप टीम के पास कितनी राशि है वह देखते हैं। तब जाकर टी20 लीग शुरू होती है। फिर इसके लिए आप खिलाड़ियों को ड्रॉफ्ट के जरिए या फिर ऑक्शन के जरिए टीम में रखते हो।

आकाश चोपड़ा ने आगे कहा कि अगर पीएसएल में ऑक्शन प्रक्रिया आ भी जाए तभी खिलाड़ियों को उतनी बड़ी रकम नहीं मिलेगी जितनी बड़ी आईपीएल में मिलती है। आप पीएसएल में कभी भी किसी खिलाड़ी को 16 करोड़ रुपए में बिकते हुए नहीं देखोगे। यह संभव ही नहीं है क्योंकि जैसा बाजार पाकिस्तान में है वह आपको ऐसा करने की इजाजत नहीं देता। हमारे देश की आबादी 130 करोड़ है। जो क्रिकेट पर पैसा करने के लिए तैयार है। हमारी धन दौलत हमारी आबादी ही है।

आकाश चोपड़ा ने आगे कहा कि अगर मान लो रोहित शर्मा और विराट कोहली पीएसएल में खेलने के लिए चले गए। तो इसका मतलब यह नहीं है कि आपकी 7 हजार करोड़ की लीग 35 हजार करोड़ की लीग बन जाएगी। इससे पाकिस्तान में दर्शकों की संख्या बढ़ेगी बस। मुझे नहीं लगता कि कोई भी टी20 लीग आईपीएल का मुकाबल कर पाएगी। फिर चाहे आप उसके लिए ड्रॉफ्ट बना लें या फिर ऑक्शन कर लें कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

.
.
.
.
.