Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच कई बार खिलाड़ियों में तकरार देखने को मिलती है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज रिकी पोटिंग ने भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को लेकर बयान दिया है। पोटिंग ने साल 2001 खेली गई टेस्ट सीरीज के बारे में बात करते हुए कहा कि जब हरभजन सिंह ने मुझे पहली बार आउट किया था तब मुझे अपनी बल्लेबाजी तकनीक पर से भरोसा उठ गया था। 

PunjabKesari

रिकी पोटिंग ने पुरानी यादों को ताजा करते हुए कहा कि मैं जब बल्लेबाजी करने के लिए बाहर गया और मैनें बस एक पैर को आगे बढ़ाया गेंद पैड पर लगी और शॉर्ट लेग पर खिलाड़ी ने कैच पकड़ लिया। मैं यह सोचकर पवेलियन जा रहा था कि मैंने वहां कुछ गलत भी नहीं किया है और फिर भी मुझे आउट दिया गया है। 

PunjabKesari

पोटिंग ने कहा इसके कि मैंने कभी भी अपनी तकनीक भरोसा नहीं किया। तो इसलिए मैंने खेलने का एक अलग तरीका खोजने की कोशिश करने लगा और अगली पारी मे मैं पहली गेंद खेलने के लिए बाहर निकला और स्टंप आउट हो गया। इसके बाद मैंने स्वीप करने की कोशिश की लेकिन बल्ले का निचला भाग गेंद पर लगा और मैं शॉर्ट लेग पर आउट हो गया। उस सीरीज में पोटिंग का बल्ला पूरी तरह खामोश रहा था। 

PunjabKesari

गौर हो कि साल 2001 में स्टीव वॉ के नेतृत्व वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत का दौरा किया था। इस दौरे में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को कड़ी टक्कर देते हुए सीरीज जीती थी। इस सीरीज में हरभजन सिंह ने शानदार गेंदबाजी करते हुए एक हैट्रिक समेत 32 विकेट लिए थे। 

.
.
.
.
.