Sports

बेंगलुरू: चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आखिरी गेंद पर सीधे थ्रो पर रन आउट करके रायल चैलेंजर्स बेंगलोर को एक रन से जीत दिलाने वाले पार्थिव पटेल ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी जब आखिरी गेंद पर चूक गए तो उन्हें काफी हैरानी हुई। धोनी ने उमेश यादव के आखिरी ओवर की पहली पांच गेंदों पर 24 रन बनाए लेकिन आखिरी गेंद पर चूक गए। वह एक रन लेने दौड़े और पार्थिव ने सीधे थ्रो पर शरदुल ठाकुर को रन आउट कर दिया। 

PunjabKesari
पटेल ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘हम चाहते थे कि धोनी आफ साउड पर मारे। वह लेग साइड पर मारता तो दो रन थे और जिस तरह से वह विकेटों के बीच दौड़ता है, दो रन रोकने का सवाल ही नहीं था।' उन्होंने कहा, ‘हम चाहते थे कि उमेश धीमी गेंद फेंके और आफ स्टम्प के बाहर हो। हैरानी की बात है कि वह चूक गया। मुझे नहीं लगा था कि वह चूकेगा।' 

PunjabKesari
पटेल ने आगे कहा, ‘बेंगलुरू या मुंबई में आखिरी पांच ओवर में 70 रन बनाए जा सकते हैं। हम उसे ज्यादा से ज्यादा खाली गेंद डालना चाहते थे क्योंकि सभी को पता है कि एम एस क्या कर सकता है। वह मैच को आखिरी तीन चार ओवर तक ले गया और जीत ही गया था। सत्र में दूसरा अर्धशतक जमाने वाले पटेल ने कहा कि कोच गैरी कर्स्टन ने उन्हें सही गेंदबाज का चुनाव करके शाट खेलने की सलाह दी जो कारगर साबित हुई । 

.
.
.
.
.