Sports

बर्मिंघम: एशेज के पहले मुकाबले में इंग्लैंड के खिलाफ दोनों पारियों में शतक लगाकर टेस्ट क्रिकेट में वापसी का जश्न मनाने वाले स्टीव स्मिथ ने कहा कि उन्होंने कभी भी टेस्ट क्रिकेट में वापसी के लिए अपनी काबिलियत संदेह नहीं हुआ था। स्मिथ में रविवार को दूसरी पारी में 142 रन बनाए जिससे आस्ट्रेलिया ने सात विकेट पर 487 रन बनाकर पारी घोषित की। उन्होंने पहली पारी में उस समय 144 रन बनाए जब टीम 122 रन तक आठ विकेट गंवा चुकी थी।

PunjabKesari
स्मिथ के साथ मैथ्यू वेड ने दूसरी पारी में 110 रन बनाये जिससे आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को जीत के लिए 398 रन का लक्ष्य दिया। दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ मामले में एक साल का प्रतिबंध झेलने के बाद यह उनका पहला टेस्ट है जिसे उन्होंने यादगार बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। स्मिथ के साथ तत्कालीन उप कप्तान डेविड वार्नर और कैमरन बैनक्राफ्ट पर भी प्रतिबंध लगा था और तीनों बल्लेबाज इस टेस्ट मैच में खेल रहे हैं।

स्मिथ और वार्नर ने हालांकि विश्व कप के दौरान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की थी जहां सेमीफाइनल में टीम को इंग्लैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।  स्मिथ ने कहा, ‘मुझे अपनी काबिलियत पर कभी शक नहीं था। मैंने इस तरह की स्वप्निल वापसी के बारे में नहीं सोचा था। एशेज के पहले मैच में दोनों पारियों में शतक लगाना शानदार है। मैंने इससे पहले क्रिकेट के किसी भी प्रारूप में ऐसा प्रदर्शन नहीं किया है।' उन्होंने कहा, ‘मुझे क्रिसमस की सुबह की तरह अनुभूति हो रही है।'

.
.
.
.
.