Sports

नई दिल्ली : अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा अनुशासत्मक कार्रवाई को लेकर एक साल के लिए बैन किए गए क्रिकेटर मोहम्मद शहजाद सामने आ गए हैं। दरअसल सोशल मीडिया पर खबरें चल रही थी कि बोर्ड के फैसले से नाराज मोहम्मद शहजाद ने अपना पासपोर्ट फाड़ दिया है। ऐसी खबरों पर विराम लगाने के मकसद से शहजाद ने एक वीडियो शेयर की है इसमें वह इन खबरों पर अपना पक्ष रखते नजर आ रहे हैं।

31 साल के शहजाद का कहना है कि उन्होंने कभी भी अफागनिस्तान का पासपोर्ट नहीं फाड़ा। शहजाद उक्त वीडियो में अपने पुराने और नए पासपोर्ट के साथ नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही वह बोलते हुए नजर आ रहे है- 

कुछ लोगों का कहना है कि अफागनिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा निलंबित होने के चलते मैंने अपना पासपोर्ट फाड़ दिया। लेकिन यह सच नहीं है। मैं आपको अपने दोनों पासपोर्ट दिखा रहा हूं। नया और पुराना भी। किसी ने मेरे बारे में गलत सूचना फैलाई है। मेरी नाराजगी क्रिकेट बोर्ड से हो सकती है न कि अफगानिस्तान से। 

बता दें कि क्रिकेट विश्व कप के दौरान शुरुआती मैचों के बाद ही शहजाद को अफगानिस्तान के क्रिकेट बोर्ड ने बाहर का रास्ता दिखा दिया था। इससे शहजाद नाराज हो गए थे। बोर्ड का कहना था कि शहजाद फिजिकल फिट नहीं है। वहीं, शहजाद खुद को फिट घोषित कर बोर्ड अधिकारियों पर भेदभाव का आरोप लगाने लगे। इस मामले में बोर्ड ने जांच कमेटी बनाई थी जिसकी दो बैठकों में शहजाद पहुंचे नहीं थे। आखिर अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने शहजाद को निलंबित कर दिया था।

.
.
.
.
.