Sports

पुणे : भारत के अनुभवी टेस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा का मानना है कि घरेलू क्रिकेट में 2017 में एक ही सत्र में 1000 रन पूरे करने वाले मयंक अग्रवाल ने बड़ी पारियां खेलने का हुनर घरेलू क्रिकट से सीखा है। टेस्ट क्रिकेट में नए अग्रवाल ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में दोहरा शतक जमाने के बाद दूसरे टेस्ट के पहले दिन शतक जड़ा।

पुजारा ने कहा, ‘अग्रवाल अनुभवी खिलाड़ी है जिसने प्रथम श्रेणी में काफी रन बनाए हैं। इससे उसे काफी मदद मिली। नब्बे के पास पहुंचने पर नर्वस होने की बात है तो वह इस मामले में निर्भीक है।' उन्होंने कहा, ‘उसे पता है कि पचासे को बड़ी पारियों में कैसे बदलना है। शतक पूरा करने पर वह बड़ी पारी खेलने में भी माहिर है।' 

स्वयं बड़ी पारियां खेलने में पारंगत पुजारा ने क्या साझेदारी के दौरान अग्रवाल को टिप्स दिये, यह पूछने पर उन्होंने कहा, ‘प्रथम श्रेणी क्रिकेट से बड़े स्कोर बनाने की आदत डल जाती है। मुझे उसे ज्यादा कुछ बताना नहीं पड़ा। हम उनकी रणनीति पर ही बात कर रहे थे।' उन्होंने कहा, ‘उनकी बल्लेबाजी में खामी होने पर मैं सिर्फ इतना कहता था कि शरीर के पास खेलो। वह खुद इतनी अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था कि ज्यादा मार्गदर्शन देने की जरूरत ही नहीं पड़ी।' 

.
.
.
.
.