Sports

जालन्धर (जसमीत सिंह) : हैदराबाद के क्रिकेट मैदान पर भारतीय दिग्गज विकेटकीपर बैट्समैन महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से जलवा दिखाए एक नहीं पूरे चार रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए। धोनी तब क्रीज पर आए थे जब ऑस्ट्रेलिया भारतीय टीम पर हावी होती दिख रही थी। ऐसी स्थिति में अपने अनुभव का फायदा लेते हुए धोनी ने केदार यादव के साथ पांचवें विकेट के लिए 141 रन जोड़कर टीम इंडिया को जीत दिला दी। मैच दौरान महेंद्र सिंह धोनी अपने एक खास रिकॉर्ड के कारण भी चर्चा में रहे। यह रिकॉर्ड था 47 बार नॉट आऊट रहते हुए टीम इंडिया को विजय दिलाने का। बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी कुल 49 बार मैच के अंत तक नाबाद रहे हैं। इनमें 47 बार टीम इंडिया जीती है। जबकि एक मैच टाई तो एक में हार का मुंह देखना पड़ा था। इसका मतलब यह है कि धोनी जब भी नॉट आऊट लौटते हैं तो लगभग 98 फीसदी मामलों में टीम इंडिया की जीत होती है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार चौथा अर्धशतक
Indian win98% match when dhoni remain not out in ODI match

धोनी ने बीते महीने ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में लगातार तीन अर्धशतक बनाए थे। अब हैदराबाद में पहले मैच के दौरान भी उन्होंने अर्धशतक लगाकर यह संख्या 4 कर ली है। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धोनी का बल्ला हर बार बोलता है। वह ऑस्टे्रलिया के खिलाफ 51 मैच खेल चुके हैं। इनमें 1500 से ज्यादा रन वह बना चुके हैं। कुल 2 शतक और 11 अर्धशतक भी उनके नाम दर्ज है। विकेटकीपिंग करते हुए भी धोनी ऑस्ट्रेलिया के 40 बल्लेबाजों को कैच आऊट तो 17 को स्टंम्प आऊट कर चुके हैं।

महेंद्र सिंह धोनी अभी भी हैं टीम इंडिया के सिक्सर किंग
Indian win98% match when dhoni remain not out in ODI match

339वां वनडे मैच खेल रहे महेंद्र सिंह धोनी अभी भी टीम इंडिया के सिक्सर किंग है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में उन्होंने पहला छक्का लगाते ही यह रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था। अब धोनी के नाम पर 216 छक्के हो चुके हैं। (बता दें कि धोनी के नाम वैसे 223 छक्के दर्ज हैं, 7 छक्के उन्होंने एशिया टीम की ओर से लगाए थे इसलिए वह छक्के बतौर भारतीय बल्लेबाज उनके आंकड़ो में शामिल नहीं होते।) रोहित के नाम अभी भी 215 छक्के दर्ज हैं। पहले नंबर पर पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी (351), दूसरे पर वैस्टइंडीज के क्रिस गेल (305), तीसरे पर श्रीलंका के सनथ जयसूर्या (270) और चौथे नंबर पर महेंद्र सिंह धोनी (कुल 223 छक्के) के साथ बने हुए हैं। 

फिफ्टी लगाने में गांगुली का रिकॉर्ड किया बराबर
Indian win98% match when dhoni remain not out in ODI match

महेंद्र सिंह धोनी की वनडे करियर में यह 71वीं फिफ्टी थी। ऐसा कर उन्होंने भारत के पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली की बराबरी कर ली है। 
देखें कौन-सा भारतीय बल्लेबाज है टॉप पर-
सचिन तेंदुलकर 463 मैच, 96 फिफ्टी
राहुल द्रविड़ 340 मैच, 82 फिफ्टी
सौरव गांगुली 308 मैच, 71 फिफ्टी
एमएस धोनी 339 मैच, 71 फिफ्टी
मोहम्मद अजहरुद्दीन 334 मैच, 58 फिफ्टी
युवराज सिंह 301 मैच, 52 फिफ्टी
विराट कोहली 223 मैच, 49 फिफ्टी

.
.
.
.
.