Sports

कोलकाता: अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल का मानना है कि भारत के युवा विकेटकीपरों को राष्ट्रीय टीम में जगह पक्की करने के लिये लगातार मौके दिए जाने चाहिए जो इस समय नहीं मिल रहे हैं। टेस्ट टीम में रिधिमान साहा लगातार खेल रहे हैं लेकिन सीमित ओवरों के प्रारूप में विकेटकीपर की जगह पक्की नहीं है। 

PunjabKesari
ऋषभ पंत अपने खराब फार्म से जगह पक्की नहीं कर सके तो केएल राहुल को विकेटकीपिंग की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभालनी पड़ रही है। पटेल ने इंस्टाग्राम पर एक चैट में कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि हमें कोई स्थायी विकेटकीपर मिलने वाला है। भारत ए के पास केएस भरत है। टेस्ट में साहा नंबर एक विकेटकीपर है लेकिन वनडे में पंत या राहुल। स्थायी विकेटकीपर होने से लगातार अच्छा प्रदर्शन भी हो सकेगा।'

.
.
.
.
.