Sports

बेंगलुरू : भारतीय महिला हॉकी टीम की उप-कप्तान सविता ने कहा कि टीम का मुख्य ध्यान महिला एशिया कप में खिताब का बचाव करके एफआईएच विश्व कप में सीधे जगह बनाकर आगे के व्यस्त सत्र के लिए लय हासिल करने पर होगा। भारतीय महिला टीम नए साल की शुरुआत जनवरी में ओमान की यात्रा के साथ करेगी जहां वे 21 से 28 जनवरी तक होने वाले एशिया कप में अपने खिताब का बचाव करने के लिए उतरेगी। 

महाद्वीप की शीर्ष आठ टीम भारत, चीन, कोरिया, जापान, मलेशिया, थाईलैंड, इंडोनेशिया और सिंगापुर एशिया कप में चुनौती पेश करेंगी। इस टूर्नामेंट में पहले चार स्थानों पर रहने वाली टीम जुलाई में स्पेन और नीदरलैंड में होने वाले एफआईएच महिला विश्व कप 2022 के लिए क्वालीफाई करेंगी। सविता ने कहा, ‘हमने 2017 में एशिया कप जीतकर महिला विश्व कप के लिये सीधे क्वालीफाई किया था जो लंदन में खेला गया था। इस जीत ने पिछले चार वर्षों में हमारे प्रदर्शन में निरंतर सुधार की नींव रखी थी।' 

गोलकीपर सविता ने हॉकी इंडिया के बयान में कहा, ‘एशिया कप में अच्छे प्रदर्शन से निश्चित तौर पर हमें जरूरी लय हासिल होगी क्योंकि हमें लगातार दो टूर्नामेंट खेलने हैं।' एशिया कप के बाद भारतीय महिला टीम पहली बार एफआईएच प्रो लीग में खेलेगी। वह भुवनेश्वर में नीदरलैंड, स्पेन, जर्मनी और इंग्लैंड का सामना करेगी। इसके बाद भारतीय टीम जून में बेल्जियम, अर्जेंटीना और अमेरिका के खिलाफ खेलने के लिए बेल्जियम और नीदरलैंड का दौरा करेगी। 

सविता ने कहा, ‘मुझे लगता है कि प्रो लीग मैच विश्व कप (जुलाई में) से पहले हमें सर्वश्रेष्ठ लय हासिल करने का मौका प्रदान करेंगे। पिछली बार विश्व कप में हमने कई दशकों में पहली बार क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी।' उन्होंने कहा, ‘ओलंपिक में हमारे प्रदर्शन के बाद हमें जो समर्थन मिला है उसे देखते हुए महिला हॉकी में रुचि बनाए रखने के लिये इन प्रमुख प्रतियोगिताओं में अच्छा प्रदर्शन करके उम्मीदों पर खरा उतरना जरूरी है।' 

.
.
.
.
.