Sports

नई दिल्ली: नाराज हरभजन सिंह ने आस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट को निशाना बनाया जिन्होंने यह सुझाव दिया था कि इस भारतीय आफ स्पिनर की 2001 में एतिहासिक हैट्रिक के दौरान वह पगबाधा आउट नहीं थे। मैच का रुख बदलने वाले हरभजन के उस स्पैल में गिलक्रिस्ट उनका दूसरा शिकार थे। 

PunjabKesari
एक प्रशंसक ने हरभजन की उपलब्धि का वीडियो साझा किया जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए गिलक्रिस्ट ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा ‘डीआरएस नहीं' था। आस्ट्रेलिया का यह पूर्व बल्लेबाज संभवत: सुझाव दे रहा था कि अगर उस समय डीआरएस उपलब्ध होता तो वह पगबधा के फैसले को बदलवाने में सफल रहता। हरभजन ने यह टिप्पणी करने पर गिलक्रिस्ट पर निशाना साधते हुए कहा कि वह उस स्पैल के दौरान अधिक समय नहीं टिक पाते। 

इस पूर्व भारतीय आफ स्पिनर ने कहा, ‘आपको लगता है कि आप पहली गेंद पर आउट नहीं होते तो लंबे समय तक खेलते रहते? इन चीजों को लेकर रोना बंद करो दोस्त... सोचा था कि खिलाड़ी के रूप में करियर खत्म करने के बाद आप समझदारी भरी बातें करेंगे... लेकिन कुछ चीजें कभी नहीं बदलती... आप इसका शीर्ष उदाहरण हो। हमेशा रोते रहते हो।' हरभजन 2001 में टेस्ट हैट्रिक बनाने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बने थे। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह हाल में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक बनाने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बने। इन दोनों के अलावा इरफान पठान ने 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की। 

PunjabKesari

 

 

 

.
.
.
.
.