Sports

नई दिल्ली :भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का कहना है कि बीते कुछ अर्से से केएल राहुल को बतौर ओपनर टीम इंडिया में बहुत मौके मिल चुके हैं। वह अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने में नाकाम हो रहे हैं। ऐसे में अब मौका है कि टीम इंडिया अपने टी-20 और वनडे के स्थाई ओपनर रोहित शर्मा को ही टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग का मौका दे। गंभीर जब तक खेले वह टीम इंडिया के लिए सहवाग के साथ वनडे, टी-20 और टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग करते थे। अब उन्होंने रोहित को भी तीनों फॉर्मेट के लिए फिट बताया है।

गंभीर ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा- 

Gambhir also came in opposition to KL Rahul, said - now Rohit gets a chance
मैं सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण के बयान से सहमत हूं। आपने जब केएल राहुल को इतने मौके दिए हैं तो इसमें कोई खराबी नहीं है कि रोहित शर्मा का विश्व कप में जो फॉर्म नजर आया 5 सौ लगाकर आए। उन्हें मौका दे। गंभीर ने कहा- ऐसा नहीं है कि भारत ने पहले कभी वनडे सलामी बल्लेबाज को टेस्ट में ओपन नहीं करवाया हो। वीरेन्द्र सहवाग को देख ले। बाकी आप दीपदास गुप्ता को देख ले  तो उन्होंने भी टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग है तो रोहित शर्मा दीपदास की तुलना में बहुत ज्यादा बेहतर हैं।

लाल गेंद पर क्या रोहित फिट बैठ पाएंगे, इस सवाल पर गंभीर ने कहा- देखिए मुश्किल तो होगी। टेस्ट में लाल गेंद दोनों तरफ से स्विंग करता है। लेकिन रोहित शर्मा के पास अच्छी तकनीक है। उनके पास अनुभव है। वह सफेद गेंद फॉर्मेट में करीब 6-7 सालों से ओपन कर रहे हैं। वह दो नई गेंद भी खेले हैं। इंग्लिश कंडिशन में रन बना चुके हैं। ऐसे में उन्हें मौका देना बनता है।

.
.
.
.
.