Sports

एकातेरिनबुर्ग ,रूस ( निकलेश जैन ) में चल रहे फीडे कैंडीडेट शतरंज टूर्नामेंट को 7 राउंड के बाद रोके जाने पर एक बार फिर आलोचकों नें फीडे ( विश्व शतरंज संघ ) पर सवाल उठाया और फीडे द्वारा इस टूर्नामेंट को शुरू करने को ही असंवेदनशील बताया । हालांकि सभी बातों का जबाब देते हुए फीडे अध्यक्ष आर्कादी द्वारकोविच नें अपना पक्ष रखा है । रूसी समाचार एजेंसी टीएएसएस के लिए एक साक्षात्कार में, फीडे प्रेसिडेंट आर्कादी द्वारकोविच नें इस फैसले पर बात की । दरअसल टूर्नामेंट शुरू होते समय ही कई खिलाड़ियों नें विश्व में स्वास्थ्य संकट के चलते इसे टालने का आग्रह किया था पर उस समय रूस की सरकार नें इसे कराने की अनुमति दे दी और फिर वैश्विक स्तर पर स्थितियाँ बिगड़ते ही रूस नें जैसे ही 27 मार्च से सभी विमानों की आवाजाही पर रोक लगाई फीडे नें कैंडीडेट टूर्नामेंट को आधे में हो रोकने का निर्णय लिया । आपको बता दे की शतरंज में कैंडीडेट जीतने वाला ही विश्व चैम्पियन को चुनौती देता है । फिलहाल प्रतियोगिता में 7 राउंड ही हुए और बाकी 7 कब होंगे इसके बारे में कोई निर्णय नहीं हुआ है । 
फीडे अध्यक्ष नें कहा यह खिलाड़ियों और शतरंज की दुनिया के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण टूर्नामेंट है।

फीडे प्रेसिडेंट नें कहा शुरू करने की स्थिति के बारे मे कहा की  "रूस मं  स्थिति शुरुआत में अलग थी। हमने हर स्थिति का आकलन किया था , जिनमें टूर्नामेंट को आगे बढ़ा देना भी शामिल था। बात रही चिकित्सा सुरक्षा उपायों की तो , कैंडिडेट्स टर्नामेंट में सभी उच्चस्तर की सुरक्षा स्थिति का इंतजाम किया गया था। "

PunjabKesari

आगे मैच कब होगा इस पर उनका जबाब कुछ यूं था "नियमों का पालन करते हुए और सभी की सुरक्षा और हितों की रक्षा करते हुए हम हर संभव कोशिश करेंगे कि जल्द से जल्द मैच हो । हमें विश्वास है कि हमारे मुख्य प्रायोजक - सिमा-लैंड  के सहयोग से, इस वर्ष कार्यक्रम पूरा हो जाएगा। वैश्विक स्थिति स्थिर होते ही सटीक तिथियों और स्थानों का मुद्दा निकट भविष्य में हल हो जाएगा।"

PunjabKesari

टूर्नामेंट रोकने पर उनका जबाब कुछ यूं था "यह अनोखी स्थिति अचानक सामने आ गयी है। हम सब कुछ कर रहे हैं जिससे हम सभी को आवश्यक सहायता प्रदान कर सकें और उन्हें सुरक्षित घर पहुंचा सकें। टूर्नामेंट में शामिल सभी खिलाड़ियों और अधिकांश अन्य लोगों के लिए टिकट पहले ही खरीदे जा चुके हैं, और हम सभी आवश्यक वस्तुओं की व्यवस्था कर रहे हैं। सभी यात्रा खर्च का भुगतान फीडे द्वारा किया जा रहा है और यह सुनिश्चित करने के लिए फीडे सभी के साथ मिलकर काम कर रहा है ।"


 

.
.
.
.
.