Sports

लौसेन : मिस्र के सैफ अहमद अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) के कार्यवाहक अध्यक्ष चुने गये हैं। एफआईएच के कार्यकारी बोर्ड ने यह सूचना दी। एफआईएच के पूर्व अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने सोमवार, 18 जुलाई को इस पद से इस्तीफा दे दिया था। बत्रा के स्थायी उत्तराधिकारी का चयन नवंबर में होना है। अफ्रीकी हॉकी महासंघ (एएफएचएफ) के अध्यक्ष अहमद की एफआईएच के अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति की घोषणा कार्यकारी बोर्ड की बैठक के बाद हुई।

 

बोर्ड ने इसी बैठक के दौरान बत्रा का इस्तीफा भी मंज़ूर किया। बोर्ड ने बताया कि इस साल की एफआईएच कांग्रेस का आयोजन 4 और 5  नवंबर को वर्चुअली होगा, जिसके एक दिन बाद स्थाई अध्यक्ष की नियुक्ति के लिए चुनाव आयोजित किया जाएगा। एफआईएच के कार्यवाहक अध्यक्ष अहमद 1968 में मिस्र की राष्ट्रीय टीम के सदस्य थे और एक अंपायर और एक तकनीकी अधिकारी दोनों के रूप में खेल के साथ उनका लंबा जुड़ाव रहा है। वह 2004 में अध्यक्ष चुने जाने से पहले नौ साल तक एएफएचएफ के कोषाध्यक्ष थे। वह 2001 से एफआईएच कार्यकारी बोर्ड के सदस्य रहे हैं। 

 

उल्लेखनीय है कि बत्रा ने इस सप्ताह की शुरुआत में दबाव में आकर एफआईएच और भारतीय ओलिम्पिक संघ (आईओए) दोनों के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की घोषणा की थी। इससे पहले, दिल्ली उच्च न्यायालय ने पिछले महीने फैसला सुनाया था कि बत्रा को हॉकी इंडिया में आजीवन सदस्य के रूप में अपनी विवादास्पद स्थिति से संबंधित मामले में आईओए अध्यक्ष के रूप में कार्य करना बंद कर देना चाहिए। अदालत ने यह भी कहा था कि एक तीन-सदस्यीय प्रशासनिक समिति हॉकी इंडिया का संचालन करेगी। 


इसी बीच, एफआईएच कार्यकारी बोर्ड ने घोषणा की कि उसने हॉकी इंडिया की मौजूदा हालत का जायजा लेने के लिए एक प्रतिनिधि मंडल को भारत भेजने का फैसला किया है। यह मुद्दा इसलिए भी गर्म है क्योंकि आगामी हॉकी पुरुष विश्व कप जनवरी 2023 में भुवनेश्वर और राउरकेला में आयोजित होना है। 

.
.
.
.
.