Sports

नई दिल्ली : आईपीएल और क्रिकेट वल्र्ड कप में धमाकेदार प्रदर्शन करने के बाद एशेज सीरीज में बुरी तरह फ्लॉप रहे डेविड वार्नर आखिरकार दोबारा लय में आते हुए नजर आ रहे हैं। ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर ने शे फील्ड ट्रॉफी के एक मैच में न सिर्फ जोरदार शतक जड़ा बल्कि फॉर्म में भी वापसी की। वार्नर ने अपनी 125 रनों की पारी के दौरान 18 चौके भी जड़े। न्यू साऊथ वेल्स की ओर से क्वींसलैंड के खिलाफ खेले गए मैच के दौरान वार्नर ने अपने शतक की बदौलत अपनी टीम को 249 रनों तक ला खड़ा किया। इससे पहले खेलते हुए क्वींसलैंड की टीम महज 153 रनों पर लुढ़क गई थी।

बता दें कि एशेज सीरीज के दौरा ताबड़तोड़ रन बनाने वाले ऑस्ट्र्रेलियाई प्लेयर स्टीव स्मिथ शेफील्ड ट्रॉफी के अपने पहले ही मैच में शून्य पर आऊट हो गए थे। तभी उनके साथी वार्नर ने जिम्मेदारी निभाने हुए शानदार शतक तो लगाया ही साथ ही अपनी टीम को संकट की स्थिति से भी बाहर निकाल लिया। 

32 साल के वार्नर बीते दिनों टेस्ट इतिहास के ऐसे बल्लेबाज बन गए थे जिन्होंने एक सीरीज के दौरान सर्वाधिक एकल स्कोर में आऊट होने का शर्मनाक रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया। वार्नर एशेज के पांच टेस्ट मैचों में केवल 9 की औसत से रन बना पाए थे। इनमें से वह तीन बार तो शून्य पर ही आऊट हो गए थे। लेकिन क्वींसलैंड के खिलाफ उन्होंने फिर से बड़ी पारी खेलकर दर्शकों का दिल जीत लिया। वार्नर अब 21 नवंबर को ब्रिस्बेन के मैदान पर पाकिस्तान के खिलाफ मैच खेल सकते हैं।

.
.
.
.
.