Sports

नई दिल्ली : किंग्स इलेवन पंजाब की सीजन में छठी हार से पंजाब के फैंस का सोशल मीडिया पर जमकर गुस्सा फुटा। पंजाब टीम को कोलकाता के खिलाफ महज 165 रनों का लक्ष्य मिला था। टीम एक समय एक विकेट गंवाकर 114 रन पर थी लेकिन वह इसके बावजूद लक्ष्य हासिल नहीं कर पाई। इस दौरान फैंस ने पंजाब के बल्लेबाजी क्रम को लेकर कप्तान केएल राहुल और खास तौर पर कोच अनिल कुंबले की जमकर आलोचना की। कुंबले को ट्रोल करते कई ट्विट देखने को मिले।

Kohli did the best thing for Indian team by pushing Kumble out. ??

— rootofall3vil (@rootofall3vil) October 10, 2020

Anil Kumble is ageing visibly with every game.

— Prem Panicker (@prempanicker) October 10, 2020

Fun fact: Vijay Mallya once tried to win IPL with T20 specialists like Wasim Jaffer, Chanderpaul, Dravid and Kumble, credit where it’s due, Kingfisher beer me kuch to mast nasha hai..

— Gappistan Radio (@GappistanRadio) October 10, 2020

These South Indians are having some strategy to make Punjab lose in any way possible.
Throw KL, Kumble out of here.

— Facts Only! (@theJassyyy) October 10, 2020

Kumble deciding batting positions of KXIP based on his own Dream11 team.

— dimaagkoshot (@dimaagkoshot) October 10, 2020

Only on @twitter can you get armchair cricketers who have only played one-tip-one-hand (and were shit) criticise an all time Indian great like #Kumble.

— Rahul Puri (@rahulpuri) October 10, 2020

Why play Maxwell if you think Simran Singh is better than him.. sack Kumble with immediate effect @lionsdenkxip

— JSK (@imjsk27) October 10, 2020

बता दें कि सीजन के दौरान पंजाब की शुरुआत बेहद खराब रही है। फैंस इसलिए भी निराश हैं कि केएल राहुल और मयंक अग्रवाल के अलावा और कोई भी बल्लेबाज बड़ा स्कोर नहीं बना पाया है। पंजाब की टीम छह मैच गंवा चुकी है। अगर उन्हें प्लेऑफ में जगह बनानी है तो उन्हें आने वाले सातों मैच जीतने पड़ेंगे।

PunjabKesari

वहीं, पंजाब के कोच धाकड़ बल्लेबाज क्रिस गेल को प्लेइंग-11 में मौका ने देने के कारण भी फैंस के गुस्से का शिकार हुए। इससे पिछले मैच में कुंबले ने कहा था कि वह गेल को प्लेइंग-11 में रखना चाहते थे लेकिन अंतिम समय में वह फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए थे। इसलिए उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया।

.
.
.
.
.