Sports

जालन्धर : ऑनलाइन अभ्रदता (साइबर बुङ्क्षलग) के खिलाफ इंगलैंड के प्रमुख फुटबॉल क्लबों, लीग प्रबंधकों और खिलाडिय़ों द्वारा 4 दिन तक सोशल मीडिया (फेसबुक, ट्विटरए इंस्टाग्राम) का बायकॉट किया गया।  मुहिम की मजबूती के लिए मैनचैस्टर युनाइटेड ने प्रीमियर लीग में मिली जीत भी सोशल मीडिया पर सैलिब्रेट नहीं की थी। उक्त मुहिम में इंगलिश फुटबॉल एसोसिएशन, इंगलिश प्रीमियर लीग, वुमन सुपर लीग, वुमन चैम्पियनशिप से जुड़े सभी सदस्यों ने एकजुटता दिखाई थी। 
मैनचैस्टर युनाइटेड ने ब्लॉक किए थे फैन 
अभद्रता के विरोध में फुटबॉल क्लब मैनचैस्टर युनाइटेड ने सबसे पहले कदम उठाते हुए 6 फैंस को ब्लॉक कर दिया था। क्लब ने पाया कि सितंबर 2019 से लेकर फरवरी 2021 तक उनके प्लेयरों के खिलाफ सोशल मीडिया पर 3300 से ज्यादा कंप्लेंट आई थीं। क्लब चेलिसी ने भी ऐसे मामले आने पर 10 दिन का बैन लगाने की मांग की है।
यह रास्ता अपनाया
इंगलिश फुटबॉल लीग और प्रीमियर लीग ने सभी क्लब मैंबर्स के साथ मिलकर सोशल मीडिया की तीनों बड़ी कंपनियां फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम से अपील की है कि वह अपने प्लेटफार्म पर ऑनलाइन अभद्र व्यवहार को रोकने के लिए सख्त कदम उठाएं। अपनी ताकत दिखाने के लिए 4 दिन का बायकॉट किया गया है ताकि सोशल मीडिया पर राज करने वाली यह तीनों कंपनियां इसको लेकर गंभीर हो और सख्त नियम बनाएं।
ये थी मांगे
1 बेहतर रोकथाम - पहली जगह में ऑनलाइन दुरुपयोग को रोकने में मदद करने के लिए
2. अकाऊंट वैरिफिकेशन - फैक अकाऊंट बनाकर अभद्र टिप्पणी करने वालों को रोका जाए
3. उचित दंड मिले - ऑनलाइन दुरुपयोग के लिए वर्तमान दंड अपर्याप्त हैं, इसे सख्त किया जाए
4. सरकार का हस्तक्षेप - संसद के माध्यम से ऑनलाइन हाम्र्स बिल तेजी से ट्रैक करना

टोटेनहम के कोच ने ली रिटायरमैंट
टोटेनहम क्लब के अंतरिम कोच रियान मैसन ने 2018 में महज 26 की उम्र में रिटायरमैंट ले ली थी। दरअसल, रियाल के सिर में चोट लग गई थी। फुटबॉल फैंस ने सोशल मीडिया पर उनका जमकर मजाक उड़ाया। मैसन ने कहा- मैं यह सब देख नहीं सकता था। मेरी रिटायरमैंट के बाद भी मुझे ऐसे नफरत भरे मैसेज आते रहे।
मैसी ने भी दिया साथ
मुझे फॉलो करने वाले 200 मिलियन लोगों से मैं चाहूंगा कि वह इस नैटवर्क को एक सुरक्षित और सम्मानजनक स्थान बनाए रखें।  जहां हम बिना डर और अपमान के कुछ शेयर कर सकें। -लियोनेल मैसी

.
.
.
.
.