Sports

नई दिल्ली ( निकलेश जैन ) विश्व जूनियर शतरंज चैंपियनशिप का देश में आठवाँ तो दिल्ली में पहली बार हो रहे आयोजन का भव्य शुभारंभ रूस के पूर्व उप प्रधानमंत्री और वर्तमान में विश्व शतरंज संघ के अध्यक्ष अरकादी द्वारकोविच नें टॉप सीड ईरान के अमीन ताबतबाई और चीन की जू जिनर के साथ पहली चाल चल कर किया ।

PunjabKesari

प्रतियोगिता में मेजबान भारत समेत दुनिया के 41 देशो के 189 शीर्ष जूनियर खिलाड़ी भाग ले रहे है ।

भारत को पदक की बड़ी उम्मीद – भारत के लिए विश्व शतरंज चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक पिछले 10 सालों से नहीं आया है पर इस बार भारत को बालक और बालिका वर्ग में बड़ी उम्मीद है

बालक वर्ग में भारत के मुरली कार्तिकेयन को प्रतियोगिता में दूसरी वरीयता दी गयी है वही भारत के वर्तमान राष्ट्रीय चैम्पियन अरविंद चितांबरम को दूसरी वरीयता मिली है । भारत की नजरे अंडर 18 विश्व चैम्पियन बने आर प्रग्गानंधा पर भी रहेंगी । खैर पहले दिन का सबसे बड़ा उलटफेर किया भारत के 52 वे वरीय संकल्प गुप्ता नें 5 वे वरीय क्यूबा के कार्लोस अलबोरनोज को मात दी । गुर्न्फ़ील्ड ओपनिंग मे हुए इस मुक़ाबले में 38 चालों में संकल्प ने जीत दर्ज की ।

देखे संकल्प की जीत उन्ही की जुबानी 

बालिका वर्ग में भारत की शीर्ष खिलाड़ी आर वैशाली और दिव्या देशमुख ,वन्तिका अग्रवाल से भी पदक की उम्मीद रहेगी । 

 

.
.
.
.
.