Sports

दुबई ( निकलेश जैन ) विश्व के नंबर एक शतरंज खिलाड़ी नॉर्वे के मेगनस कार्लसन एक बार फिर विश्व चैम्पियन बन गए है । विश्व चैंपियनशिप के 11वे राउंड मे कार्लसन नें अपने प्रतिद्वंदी रूस के यान नेपोमिन्सी को पराजित करते हुए लगातार अपना पाँचवाँ विश्व खिताब जीत लिया इसके साथ ही उन्होने पाँच विश्व खिताब जीतने के भारत के विश्वनाथन आनंद की बराबरी कर ली , हालांकि जहां आनंद नें अपने विश्व खिताब राउंड रॉबिन , नॉक आउट और  वन तो वन मैच से जीते थे तो कार्लसन नें सभी खिताब वन टू वन मैच से जीते है । कार्लसन नें 2013 और 2014 मे भारत के आनंद तो 2016 मे रूस के कार्याकिन और 2018 मे यूएसए के फबियानों करूआना को मात देते हुए विश्व विजेता बने थे ।

PunjabKesari

14 राउंड की विश्व चैंपियनशिप मे कार्लसन नें ग्यारवे राउंड मे जब खेलना शुरू किया तो वह 6.5-3.5 से आगे चल रहे थे और उन्हे जीत के लिए सिर्फ 1 अंक की जरूरत थी । सफ़ेद मोहरो से खेल रहे यान नेपोमिन्सी नें इटेलिअन ओपनिंग मे कुछ अलग करने की कोशिश की पर दोनों ऊंट के खेल से बाहर  जाते ही आक्रमण करना मुश्किल हो रहा था ऐसे मे नेपो नें राजा की ओर से हमले की योजना बनाई पर कार्लसन नें केंद्र से स्थिति को नियंत्रित कर लिया , खैर इस दौरान खेल की 23वीं चाल पर कार्लसन का हाथी मारने की कोशिश मे नेपोमिन्सी नें अपना घोडा दे दिया पर उनका राजा बहुत कमजोर पड़ गया और अंत मे जाकर 49 चालों में यही उनकी हार का कारण बना । इस जीत से कार्लसन नें ख़िताबी जीत के लिए जरूरी 7.5 अंक बनाकर विश्व चैंपियनशिप जीत ली । जीत के अंतर के हिसाब से यह कार्लसन की अब तक की सबसे बड़ी जीत रही ।

विश्व विजेता बनने पर कार्लसन को करीब 10 करोड़ 30 लाख रुपेय तो उपविजेता बने यान नेपोमिन्सी को करीब 7 करोड़ रुपेय मिले ।

.
.
.
.
.