Sports

लोसेन ,स्विट्जरलैंड ( निकलेश जैन ) में 1 मार्च से 14 मार्च के दौरान तीसरी फीडे महिला ग्रां प्री शतरंज चैंपियनशिप खेली जाएगी और एक बार फिर दुनिया की शीर्ष 12 खिलाड़ी राउंड रॉबिन आधार पर 11 राउंड का मुक़ाबला खेलेंगी । भारत की हरिका द्रोणावल्ली के पास यह आखिरी मौका है जब वह इसे जीतकर फीडे कैंडीडेट में पहुँच सकती है । फिलहाल उनके पास 120 अंक है और अगर यह खिताब वह जीत ले तो वह 280 बना सकती है । हरिका के अलावा इस बार के ग्रां प्री में मौजूदा विश्व चैम्पियन चीन की जू वेंजून ,रूस की अलेक्सन्द्रा गोरयाचकिना ,बुल्गारिया की अंटोनेटा स्टेफनोवा ,उक्रेन की मारिया मुजयचूक और अन्ना मुजयचूक ,स्वीडन की पिया क्रामलिंग ,फ्रांस की मारी सेबग ,जॉर्जिया की नाना दगनिडजे ,रूस की अलिना काशलिन्सक्या और कजाकिस्तान की अब्दुमालिक जाँसाया होंगी । दरअसल कोरोना वाइरस की वजह से यात्रा करने में असमर्थ चीन की ज़्हओ क्षुए की की जगह अंतिम समय में अब्दुमालिक को शामिल किया गया है ।

आपको बता दे की शतरंज मे मौजूदा विश्व चैम्पियन को चुनौती देने का काम कैंडीडेट टूर्नामेंट का विजेता करता है और कैंडीडेट मे पहुँचने का रास्ता इसी फीडे ग्रां प्री से होकर जाता है । कुल चार फीडे ग्रां प्री मे से खिलाड़ी अधिकतम तीन ग्रां प्री खेल सकते है । फिलहाल दो फीडे ग्रां प्री के बाद भारत के कोनेरु हम्पी इस दौड़ में सबसे आगे चल रही है और इस बार वह इस ग्रां प्री में ना खेलकर मई में होने वाली अंतिम ग्रां प्री में खेलेंगी ।

 

.
.
.
.
.