Sports

लंदन: एकदिवसीय क्रिकेट की अपनी सफलता को टेस्ट क्रिकेट में दोहराने में नाकाम रहे इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने कहा कि वह खेल के सबसे लंबे प्रारूप में भी खुद को साबित करने के लिये प्रतिबद्ध हैं। बटलर का टेस्ट मैचों में हालिया प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा तथा न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों में उनका उच्चतम स्कोर 43 रन रहा। इस 29 वर्षीय खिलाड़ी को श्रीलंका के खिलाफ आगामी दौरे के लिए भी इंग्लैंड की टीम में चुना गया है विराट कोहली, फाफ डुप्लेसिस और डेविड वार्नर वर्तमान समय के ऐसे बल्लेबाज हैं जो तीनों प्रारूपों में सफल रहे हैं और बटलर भी इनकी सूची में शामिल होना चाहते हैं। 

बटलर ने कहा, ‘कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जो दुनिया में सर्वश्रेष्ठ है और वे सभी प्रारूपों में अच्छा प्रदर्शन करते हैं। वे ऐसा करने में सफल रहे हैं।' उन्होंने कहा, ‘सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी सभी प्रारूपों में खेल सकता है। आप सभी प्रारूपों में खेलना चाहते हो। आप सभी प्रारूपों के लिए टीम में बने रहना चाहते हो। मैं निश्चित तौर ऐसा चाहता हूं। कुछ खिलाड़ी नैसर्गिक तौर पर सभी प्रारूपों में ढल जाते हैं लेकिन मेरा मानना है कि आप ऐसा कर सकते हो।'

.
.
.
.
.