Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : महेंद्र सिंह धोनी अगले साल भी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलते हुए नजर आएंगे। चेन्नई सुपर किंग्स रविवार को वर्तमान सत्र में जब अपना अंतिम लीग मैच खेलने के लिए उतरा तो भारत के विश्व कप विजेता कप्तान ने स्पष्ट किया कि यह उनका इस फ्रेंचाइजी की तरफ से आखिरी मैच नहीं है। धोनी ने यह बयान देकर टॉस को अपने असंख्य समर्थकों के लिए यादगार बना दिया। उन्होंने पुष्टि की कि वह अगले साल भी चेन्नई की अगुवाई करेंगे।

न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डैनी मॉरीसन ने जब धोनी से पूछा कि क्या किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच चेन्नई की तरफ से उनका आखिरी मैच है, उन्होंने कहा, ‘निश्चित तौर पर नहीं।' उनके इस बयान पर सोशल मीडिया पर भी प्रतिक्रियाएं आने लगी। धोनी ने कोविड-19 के कारण आस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाला टी20 विश्व कप स्थगित होने के बाद इस साल 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी थी लेकिन उनका कम से कम दो साल तक आईपीएल में खेलने की संभावना थी।

धोनी ने भारत की तरफ से आखिरी मैच पिछले साल वनडे विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल के रूप में खेला था। चेन्नई के लिए यह सत्र बेहद निराशाजनक रहा। तीन बार की चैंपियन टीम पहली बार इस टूर्नामेंट के प्लेआफ में पहुंचने में नाकाम रही। अगले साल आइ्रपीएल अप्रैल – मई में आयोजित किया जाएगा लेकिन विश्व में कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए इसकी तिथियों में बदलाव किया जा सकता है। 

PunjabKesari

गौर हो कि चेन्नई ने पिछले मैच में किंग्स इलेवन को 10 विकेट से करारी हार दी थी। सीएसके लगातार दो जीत के बाद अब किंग्स इलेवन के खिलाफ उतरी है। वहीं किंग्स इलेवन की बात करें तो उसने पिछले पांच मैच जीतकर प्लेऑफ की दौड़ में वापसी की लेकिन पिछले मैच में हार के बाद उसे झटका लगा है। सीएसके 13 मैचों में 5 जीत के साथ 10 अंक लेकर आठवें नम्बर पर है। वहीं पंजाब 13 मैचों में 6 जीत के साथ 12 अंक लेकर पांचवें स्थान पर है। 

.
.
.
.
.