Sports

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के गेंदबाजी कोच के तौर पर टीम के साथ यात्रा करने और जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहने के कारण वकार यूनिस सात महीने से अपने परिवार से नहीं मिल सके थे, लेकिन आखिरकार उन्हें घर पर कुछ समय बिताने का मौका मिल गया। वकार (49 वर्ष) पहले अपनी टीम के साथ इंग्लैंड दौरे पर थे, जिससे पहले देश ने जिम्बाब्वे की मेजबानी की थी। फिर टीम न्यूजीलैंड के दौरे पर चली गई थी।

पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड में दो टेस्ट खेले लेकिन वकार को पहले मैच में 101 रन की हार के बाद घर लौटने की अनुमति दे दी गयी ताकि वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अगले महीने होने वाली घरेलू श्रृंखला से पहले अपने परिवार के साथ समय बिता सकें। वकार ने बुधवार को पत्रकारों से कहा कि मैंने पिछले सात महीनों में अपने परिवार को नहीं देखा था और मुझे क्रिकेट बोर्ड से अपने परिवार के साथ समय बिताने की अनुमति मिल गयी। क्रिकेट पर ही दुनिया खत्म नहीं हो जाती। जिंदगी में कुछ अन्य भी चीजें हैं जो महत्वपूर्ण हैं।

 

.
.
.
.
.