Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : लगातार खराब फाॅर्म में चल रहे भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) को रिप्लेस किया जा सकता है। कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) उनकी जगह युवा खिलाड़ियों को टीम में जगह दे सकते हैं। धवन ने वेस्टइंडीज दौरे के दौरान पिछले चार मैचों कुल 28 रन (1, 23, 3, 2) बनाए हैं। देश में कई ऐसे बल्लेबाज हैं जो लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और अगर वह अपनी फार्म में वापस नहीं लौटते तो उनकी जगह इन खिलाड़ियों को मौका मिल सकता है। आइए जानते हैं इन खिलाड़ियों के बारे में - 

PunjabKesari, Shubman Gill

शुभमन गिल (Shubman Gill)

इस भारतीय युवा खिलाड़ी को भविष्य का विराट कोहली माना जाता है क्योंकि इनका शॉट्स खेलने का अंदाज कप्तान कोहली जैसा ही है। इस 19 वर्षीय बल्लेबाज ने प्रथम श्रेणी में 11 मैचों में 19 इनिंग्स में खेलते हुए 83.31 के औसत से 1333 रन बनाए हैं। लिस्ट ए में शुभमन गिल के 46 इनिंग्स में 1942 रन बटोरे हैं और इस दौरान गिल का औसत 47.36 का रहा है। गिल अपनी पारी के दौरान कई बार मैच का रूख बदलते दिखाई देखे गए हैं। 

PunjabKesari, Ruturaj Gaikwad

रितुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad)

अगर आप इस खिलाड़ी के बारे में नहीं जातने तो बता देते हैं कि ऋतुराज गायकवाड़ अपने खेल से सभी को आकर्षित करने में कामियाब रहे हैं लेकिन अभी तक सिलेक्टर्स ने उनके बारे में कोई खास प्लान नहीं बनाया है। गायकवाड़ के रिकाॅर्ड पर नजर दौड़ाई जाए तो लिस्ट ए में उन्होंने 38 इनिंग्स में बल्लेबाजी की है और इस दौरान 57.08 के औसत से 2055 रन ठोके हैं। इस दौरान उनका अधिकतम स्कोर नाबाद 187 रहा है। वेस्टइंडीज ए के खिलाफ खेलते हुए भारतीय टीम का हिस्सा रहे गायकवाड़ ने 85,20,99 रनों की पारियां खेली हैं। 

PunjabKesari, mayank agarwal photo, मयंक अग्रवाल

मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal)

इंग्लैंड एंड वेल्स में खेले गए विश्व कप 2019 (World Cup 2019) में विजय शंकर (Vijay Shankar) के रिप्लेसमेंट के तौर पर मयंक अग्रवाल को इंग्लैंड बुलाया गया था लेकिन मौका नहीं मिला। लेकिन मयंक के प्रथम श्रेणी के आंकड़े हैरान करने वाले हैं। उन्होंने 52 मैचों में 89 इनिंग्स खेलते हुए 49.25 के औसत से 4087 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 304 रनों की पारी भी  खेली थी। चाहे एक बार वह भारतीय टीम के लिए नहीं खेल पाए लेकिन भविष्य में टीम इंडिया में वह जरूर देखने को मिलेंगे। 

.
.
.
.
.